Press "Enter" to skip to content

चार वर्ष पुराने चर्चित हत्याकांड का खुलासा, भाजपा नेत्री मालती बंजारे का हत्यारा पुलिस की गिरफ्त में, आरोपी ने अपनी उपस्थिति छिपाने किया था करीब 50 सीम नंबरों का उपयोग

बलौदाबाजार. 06.11.2015 को ग्राम जुनवानी की भाजपा नेत्री मालती बंजारे शाम करीब 6.30 बजे घर से कही निकली थी देर रात तक घर वापस नहीं आई तब उसके परिजनों द्वारा गांव में खोजबीन किए नहीं मिली । दिनांक 07.11.2015 के प्रातः 7.00 बजे मालती बंजारे का शव ग्राम जुनवानी स्कूल प्रांगण आँगनबाड़ी के पास अर्धनग्न अवस्था में मिला था। इसके पश्चात तत्काल पुलिस मौके पर पहुंच कर भटगांव पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध धारा 302 भादवि का प्रकरण पंजीबध्द कर जांच प्रारंभ किया गया। प्रकरण में मृतिका के आसपास एवं उनसे संबंध रखने वाले सभी लोगों से गहन जांच पूछताछ किया गया मोबाईल डिटेल खंगाला गया, परंतु अज्ञात आरोपी का कोई पता नहीं चला। लगातार चार सालो में पुलिस ने प्रकरण के आरोपी कि जांच तलाश जारी रखी तथा आरोपी कि पतासाजी हेतु हर संभव प्रयास करते रहा।

वर्ष 2019 में पुलिस अधीक्षक महोदया श्रीमती नीतुकमल द्वारा प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महोदया श्रीमती निवेदिता पाल एवं अनुविभागीय पुलिस अधिकारी बिलाईगढ श्री संजय तिवारी के नेतृत्व में थाना प्रभारी भटगांव उपनिरी जी एस.देशमुख, उपनिरी ओमप्रकाश त्रिपाठी के साथ विशेष जांच दल का गठन किया गया और प्रकरण कि जांच प्रारंभ कि गई। जांच दौरान जानकारी मिली कि जुनवानी गांव का रहने वाला अजीत कुर्रे पिता खिखोराम उम्र 30 वर्ष ने घटना के समय पर तकरीबन 50 मोबाईल नंबरो का उपयोग किया था तथा घटना के पहले मृतिका से मिला था तथा घटना के समय अपना मोबाइल बंद करके रखा था। अजीत कुर्रे के बारे में जानकारी मिला कि अजीत कुर्रे का ग्राम जुनवानी के एक महिला के साथ प्रेम संबंध था जिसे मालती बंजारे जान गई और इसे समझाईश भी दी थी जिसके कारण अजीत कुर्रे अपनी प्रेमिका से स्वतंत्र रूप से नहीं मिल पा रहा था। अजीत कुर्रे के जीजा का अवैध संबंध मालती बंजारे के साथ था। वह उसकी आर्थिक मदद भी करता था और मालती बंजारे उससे और रूपये की मांग करते हुये ब्लैकमेल करती थी। जिससे इसकी बहन के परिवार को आर्थिक तंगी से जुझना पड रहा था।
दिसंबर 2014 में अजित के दूसरे जीजा को छेडखानी करते हो बोलकर मालती ने सार्वजिनक रूप से चप्पल भी दिखाया था जिस पर अजीत कुर्रे ने मालती बंजारे को जान से मारने की धमकी दी थी। तभी से अजीत कुर्रे मालती बंजारे के प्रति बदले का भावना रखता था। दिनांक 06.11.2015 को अजीत कुर्रे ने बहाने से मालती बंजारे को गांव के आंगन बाडी के पास पैसे देने के बहाने से बुला लिया, जहां वह तथा उसका एक अन्य सांथी पहले से घात लगाकर बैठे थे। मालतीे बंजारे के आते ही दोनों ने मालती बंजारे के सिर पर वार किया और मालती बंजारे के बेहोश होते ही उसका गला घोटकर हत्या कर दिया तथा पुलिस को गुमराह करने के लिए मालती बंजारे के पहने हुए गाऊन को काटकर नग्न अवस्था में आंगन बाडी के पीछे शव को रख दिया। तथा अजीत कुर्रे की जिन जिन लोगों से दुश्मनी थी ऊन लोगो का नाम स्वंय लिखते हुऐ फर्जी सुसाईड नोट लिखकर मृतिका के हाथ मे पकडा दिया ।

मृतिका के हाथ में मिले सुसाईड नोट के हस्तलिपी का मिलान अजीत कुर्रे के लिखावट से कराया गया। सतप्रतिशत लिखावट मिलान होने पर अजीत कुर्रे का नार्को टेस्ट भी कराया गया वह भी अजीत कुर्रे के पक्ष में नहीं था। प्रकरण में संकलित संपूर्ण साक्ष्य एवं अनुसंधान के आधार पर आरोपी अजीत कुर्रे को आज दिनांक 20.02.2020 को विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया, जिसे न्यायिक रिमाण्ड पर जेल दाखिल किया जाता है। प्रकरण में अन्य आरोपी की भी पहचान कर ली गई है, जिसकी गिरफ्तारी शेष है। उक्त आरोपी की गिरफ्तारी के लिये टीम गठित कर पता तलाश एवं गिरफ्तारी हेतु रवाना किया गया है, उसकी भी गिरफ्तारी शीघ्र कर ली जावेगी।
प्रकरण के अनुसंधान मे पुलिस अनुविभागीय अधिकारी पुलिस बिलाईगढ श्री संजय तिवारी थाना प्रभारी भटगांव जी.एस.देशमुख, उप निरीक्षक ओमप्रकाश त्रिपाठी, सउनि सनित साहू, प्रआर. नवीन शुक्ला आर. भंवर लाल काटले, नरेश खुंटे एवं आरोपी के गिरफ्तारी में थाना भटगांव, थाना बिलाईगढ, थाना सुहेला चौकी लवन एंव चौकी गिरौधपुरी का विशेष योगदान रहा ।
▪नाम आरोपी▪
01. अजीत कुर्रे पिता खिखो राम उम्र 30 वर्ष साकिन जुनवानी, थाना भटगांव
02. एक अन्य ( फरार )



READ ALSO-  JanjgirChampa Arrest : पुराने बाजार के पास से 3 लीटर महुआ शराब की अवैध बिक्री करने वाला आरोपी गिरफ्तार, आबकारी एक्ट के तहत पुलिस ने की कार्रवाई
Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!