Press "Enter" to skip to content

दिव्यांग मड्डा राम को खेल में प्रोत्साहन, शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए शासन द्वारा हर संभव मदद, दिव्यांग छात्रवृत्ति सहित व्हील चेयर, क्रिकेट किट का मिला लाभ

रायपुर. अगर व्यक्ति में जोश और उत्साह के साथ मेहनत की ललक है तो उसे मंजिल पाने से कोई रोक नहीं सकता। इसी लगन और जज्बे ने राज्य के सुदूर नक्सल प्रभावित अंचल दंतेवाड़ा जिले के कटेकल्याण अंतर्गत माध्यमिक शाला बेंगलूर में अध्ययनरत दिव्यांग छात्र मड्डा राम को खासा लोकप्रिय बना दिया है। जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांग छात्र मड्डा राम को खेल में प्रोत्साहन देने के साथ ही उसकी शिक्षा तथा स्वास्थ्य के लिए हर संभव मदद दी जा रही है। खेल के प्रति लगन और कड़ी मेहनत से वह आज क्रिकेट का एक अच्छा खिलाड़ी बन गया है। शासन-प्रशासन द्वारा दिव्यांग छात्र मड्डा राम के प्रतिभा को निखारने और उसके भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए हर संभव मदद पहुंचायी जा रही है. गौरतलब है कि दिव्यांग मड्डा राम द्वारा क्रिकेट खेलता हुआ एक वीडियो सोशल मीडिया के ट्विटर तथा फेसबुक में वायरल हुआ, जिसे क्रिकेट के महानतम खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर ने टैग करते हुए प्रशंसा की और उन्होंने प्रोत्साहन स्वरूप मड्डा राम को क्रिकेट बैट तथा किट्स भेंट किया। विगत दिनों दिव्यांग खिलाड़ियों के राष्ट्रीय स्तर के व्हील चेयर क्रिकेट प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ राज्य में स्थान मिलने के फलस्वरूप मड्डा राम को गुजरात में खेलने के लिए भेजा गया। प्रशासन द्वारा इसके लिए आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराई गई। इसके अलावा जिला प्रशासन द्वारा 26 जनवरी को मड्डा राम को सम्मान प्रदान करते हुए प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। जिला प्रशासन द्वारा छात्र मड्डा राम को व्हील चेयर, क्रिकेट किट्स, निःशुल्क गणवेश, निःशुल्क पाठ्य पुस्तक सहित स्पोर्टस जूता-मोजा इत्यादि सामग्री प्रदान की गई है। शासन-प्रशासन से दिव्यांग छात्रवृत्ति का लाभ उसे प्रदान किया जा रहा है। शासन की ओर से जिला कलेक्टर द्वारा मड्डा राम को उचित शिक्षा प्रदान करने और उसके उचित स्वास्थ्य लाभ के दृष्टिकोण से एजुकेशन सिटी जावंगा के सक्षम आवासीय विद्यालय में शैक्षणिक सत्र 2020-21 में प्रवेश के लिए शिक्षा विभाग को निर्देशित किया गया है। इसके अलावा आई.आर.एस. एसोसिएशन इंदौर द्वारा छात्र मड्डा राम का बेहतर इलाज की पहल की जा रही है। इसके साथ जिला प्रशासन द्वारा छात्र को व्हील चेयर प्रदान किया गया है। उसके पिता को आवास, स्वच्छ पेयजल के लिए बोर, शौचालय, उज्ज्वला योजना के तहत गैस चूल्हा तथा सिलेण्डर भी उपलब्ध करवाया गया है। मलेरिया मुक्त बस्तर के तहत उसके पूरे परिवार का रक्त जांच सहित विभिन्न योजनाओं का लाभ दिया गया है। वर्तमान में जिले के 100 दिव्यांग बच्चों का शैक्षणिक भ्रमण के तहत रायपुर के विभिन्न स्थानों का भ्रमण करने गए दल में मड्डा राम भी शामिल है। 

READ ALSO-  सीएम भूपेश बघेल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, काडर नियमों में परिवर्तन पर जताया विरोध