Press "Enter" to skip to content

ब्रिलियंट पब्लिक स्कूल बनारी ( जांजगीर ) में आयुष स्वस्थ्य शिविर आयोजित

जांजगीर-चाम्पा. कक्षा आठवी के दिव्यगत छात्र आयुष सिंह राठौर की श्रद्धांजलि स्वरूप ब्रिलियंट पब्लिक स्कूल बनारी, जांजगीर में “आयुष स्वास्थ्य शिविर” कार्यक्रम का आयोजन विद्यालय के संचालक आलोक अग्रवाल, आशीष कुमार अग्रवाल व प्राचार्या श्रीमती सोनाली सिंह के मार्गदर्शन में किया गया। सर्वप्रथम आयुष सिंह के पिता संतोष राठौर द्वारा व आयुषी अग्रवाल के छायाचित्र के समक्ष माल्यार्पण एवम दीप प्रज्वलन कर प्रारम्भ किया गया.आयुष स्वास्थ्य शिविर में उपस्थित डॉ अशोक पालीवाल, डॉ दीपक अग्रवाल, डॉ मेघ अग्रवाल, डॉ संचिता सिंघल, डॉ स्टीव जार्ज, डॉ व्ही के अग्रवाल, डॉ मनोज राठौर, डॉ संजय खरे, डॉ सतीश समदर्शी व उनके अस्सिस्टेंट एवम सूर्य नर्सिंग कॉलेज के नर्सिंग स्टाफ का प्रमुख योगदान रहा। जिसमे उन्होंने प्री-प्राइमरी के नन्हे मुन्हें बच्चों एवम कक्षा पहली से नवमी के छात्र -छात्राओं का वजन व लंबाई मापकर कान, नाक, आँख, पेट, दांत, शाररिक समस्याओं से सम्बंधित जानकारी ली गयी एवमं समस्त चिकित्सको द्वारा विशेष प्रकार के इलाज कर व समस्या पीड़ित छात्रों को उनके अभिभावकों को जानकारी हेतु चिकित्सा प्रपत्र तैयार किया गया जिससे उनके अभिभावक सही समय पर उसका उपचार करवा सके।आयोजित आयुष स्वस्थ्य शिविर में सभी बच्चों, विद्यालय के समस्त शिक्षकगण तथा उपस्थित अभिभावकगगणों को किसी भी वस्तु को छूने से एवमं खाने के पूर्व व पश्चात हाथ धोने के चरणों को विस्तार से समझाया व समस्या से सम्बंधित उपचार की जानकारी दी गयी।
उपस्थित बच्चों ने आनंद पूर्वक, उत्साहित होकर अपना स्वस्थ्य परिक्षण कराया । आज के आयुष स्वास्थ्य शिविर में विद्यालय की प्राचार्या श्रीमती सोनाली सिंह ने स्वास्थ्य शिविर के विषय में कहा कि अच्छा स्वास्थ्य और अच्छी समझ सबसे बड़ा धन है, अच्छा स्वास्थ्य बनाये रखने के कई कारको पर निर्भर करता है, जिससे की स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मष्तिस्क का विकास किया जा सके । सभी उपस्थित डॉक्टर व असिस्टेंट, सूर्या कॉलेज के नर्स, विद्यालय परिवार के परीक्षा प्रभारी शांतनु जाना व समस्त शिक्षक-शिक्षिकाएँ एवं अन्य स्टाफ व शाला। प्रबंधन के सभी सदस्यों की गरिमामयी उपस्थिति रही ।स्वास्थ्य शिविर के समापन पर सभी डॉक्टर्स एवं उनके सहभागियों को समिति चिन्ह प्रदान किया गया ।
विद्यालय प्रबंधन की ओर से संचालक आलोक अग्रवाल ने कहा कि वार्षिक परीक्षा के दृष्टिकोण को ध्यान में रखते हुए यह स्वास्थ्य शिविर मिल का पत्थर साबित होगा एवं छात्राओं में इस स्वास्थ्य शिविर के प्रभाव में मन में बैठा हुआ संकोच व डर की समाप्ति होगी तथा सभी छात्र -छात्राओं का ध्यान एकाग्रचित्त होगा जिससे वे बिना किसी डर व संकोच के परीक्षा की तैयारी निरब्धता पूर्ण कर सकेंगे साथ ही इस प्रकार का स्वास्थ्य शिविर भविष्य में भी कराया जायेगा.विद्यालय के उप प्राचार्य शांतनु जाना व विद्यालय की नोडल अधिकारी श्रीमती भीष्मिता साहू व स्टाफ श्रीमती प्राची पाठक व सुश्री सुनीता दास का विशेष योगदान रहा। स्वास्थ्य शिविर में सभी शिक्षक-शिक्षिकाएं समस्त स्टाफ एवं समस्त चतुर्थ श्रेणी स्टाफ का भरपूर योगदान रहा।

READ ALSO-  छत्तीसगढ़ : दूल्हे के अरमानों पर फिर गया पानी, बारात निकलने से पहले ही उठा ले गई पुलिस, जानिए क्या है...पूरा मामला
error: Content is protected !!