Press "Enter" to skip to content

30 वां बिलासा महोत्सव 21 फरवरी से, न्यायमूर्ति चौरड़िया करेंगे शुभारम्भ

बिलासपुर. छत्तीसगढ़ की संस्कृति,कला और साहित्य के लिए समर्पित बिलासा कला मंच का प्रतिष्ठापूर्ण तीन दिवसीय आयोजन बिलासा महोत्सव 21 फ़रवरी से आयोजित होगा। बिलासा कला मंच के संस्थापक डॉ सोमनाथ यादव ने बताया कि प्रतिवर्ष तीन दिवसीय आयोजित बिलासा महोत्सव इस साल 30 वा महोत्सव होगा, जो 21 फ़रवरी से प्रारम्भ होगा। लाल बहादुर शास्त्री स्कूल मैदान, बिलासपुर में प्रतिदिन रात्रि 7 बजे से आयोजित होने वाले महोत्सव का शुभारंभ न्यायमूर्ति गौतम चौरड़िया, न्यायाधीश उच्च न्यायालय बिलासपुर के मुख्य आतिथ्य में होगा। अतिविशिष्ट अतिथि डॉ संजय अलंग कलेक्टर बिलासपुर होंगे, वहीं विशिष्ट अतिथि के रुप में मिलिंद
चहांदे जनसंपर्क प्रबन्धक एस ई सी एल और श्रीमती रजनी रजक वरिष्ठ लोकगायिका भिलाई उपस्थित रहेंगी। अध्यक्षता डॉ विनय कुमार पाठक पूर्व अध्यक्ष छत्तीसगढ़ राजभाषा आयोग करेंगे।
पहले दिन बिलासा महोत्सव में छत्तीसगढ़ी गीत, संगीत,नाचा गम्मत आदि का रंगझाझर कार्यक्रम छत्तीसगढ़ के सैकड़ों लोक कलाकार प्रस्तुति देंगे, जिनमे वरिष्ठ लोककलाकार गोवर्धन यादव एवम् साथियों (धमधा) द्वारा नाचा शैली में चरणदास चोर की प्रस्तुति देंगे, वहीं प्रसिद्ध लोकगायिका श्रीमती रजनी रजक (भिलाई) द्वारा लोक रंजनी गीत संगीत की प्रस्तुति के बाद कवर्धा के लोककलाकार राकेश चंद्रसेन एवम् साथियों द्वारा गीत, संगीत, नृत्य की प्रस्तुति होगी तत्पश्चात बिलासपुर के कलाकार बालचंद साहू और मण्डली द्वारा लोक संगीत,नृत्य की प्रस्तुति होगी, वहीं कला,साहित्य,सेवा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाले विभूतियों का बिलासा सम्मान से अभिनन्दन किया जाएगा। आज के सम्मानित व्यक्तित्व में बिलासा कला सम्मान से श्री गोवर्धन यादव (धमधा) को बिलासा साहित्य सम्मान से डॉ गीतेश अमरोहित (रायपुर) को और बिलासा सेवा सम्मान से डॉ राधेश्याम मणि त्रिपाठी का अभिनन्दन किया जाएगा।



READ ALSO-  JanjgirChampa Complain : सरपंच, सचिव, गौठान अध्यक्ष एवं सरपंच पुत्र द्वारा शासकीय भूमि को कब्जा कर बेचने का आरोप, SDM से शिकायत
Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!