Press "Enter" to skip to content

कोरोना संक्रमण की रोकथाम : हर जिले में होगा सामुदायिक सर्वे, कोरोना रेंडम सैम्पल में तेजी लाने के निर्देश

रायपुर. राज्य में कोरोना संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के उपायों के प्रभावी क्रियान्वयन के उद्देश्य से अब सभी जिलों में तेजी से सामुदायिक सर्वे कराया जाएगा। इसके लिए राज्य के हर जिले को सेक्टर में बांटकर कोरोना के संभावितों के रेंडम सैंपल लिए जाएंगे। स्वास्थ्य विभाग की सचिव श्रीमती निहारिका बारिक सिंह ने आज स्टेट कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में आयोजित बैठक में उक्त आशय के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए।
सचिव श्रीमती सिंह ने सभी जिले के कलेक्टरों एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को कम्युनिटी सर्विलेंस तथा रेंडम सेंपलिंग के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश जारी करने के साथ ही इस काम में तेजी लाने के लिए अधिकारियों को आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। यहां यह उल्लेखनीय है कि प्रथम चरण में राज्य में कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए बीते डेढ़ माह की अवधि में विदेशों से आने वाले कोरोना संक्रमित लोगों, उनके परिजनों, सीधे संपर्क में आने वाले लोगों सहित अन्य संभावितों का टेस्ट किया गया ,जो लगभग पूर्णता की ओर है। अब टेस्टिंग के दूसरे चरण में होम क्वॉरेंटाइन किए गए लोगों के साथ ही कम्यूनिटी सर्विलेंस के तहत संभावितों के सैंपल लेकर कोरोना की जांच की जाएगी। कम्यूनिटी सर्विलेंस के तहत धार्मिक स्थलों के आसपास के इलाकों, ऐसे सार्वजनिक स्थान जहां अन्य स्थानों से लोग आते-जाते और ठहरते हो, वे इलाके जहां के लोगों को सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ के लक्षण हो, उनका रैंडम आधार पर सैंपल लिया जाएगा। राहत शिविरों में ठहरे प्रवासी श्रमिकों की भी रैंडम सैंपलिंग होगी। बैठक में कोरबा जिले के कटघोरा नगर में कम्यूनिटी  सर्विलेंस की स्थिति की भी समीक्षा की गई। बताया गया कि कटघोरा नगर के सभी 15 वार्डों के शत- प्रतिशत घरों का विभागीय अमले, मितानिन के माध्यम से सर्वे पूरा करा लिया गया है। यहां लक्षण के आधार पर रेंडम सेंपलिंग शुरू कराने के निर्देश दिए गए। बैठक में विशेष सचिव स्वास्थ्य डॉ. सी.आर. प्रसन्ना, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

READ ALSO-  Janjgir Good Innovative : देश के पहले किसान स्कूल बहेराडीह में 18 विषयों के बाद अब कम्यूटर की भी पढ़ाई का हुआ शुभारम्भ, किसान और उनके बच्चों को मिलेगी कम्प्यूटर की शिक्षा
error: Content is protected !!