Press "Enter" to skip to content

क्या है Blockchain तकनीक, कितना होगा इससे फायदा, जानिए यहां…

नई दिल्ली. इन दिनों ब्लॉकचेन (Blockchain) को लेकर लोगों के बीच काफी चर्चा हो रही है। जाहिर है, आपने भी इस टर्म के बारे में सुना होगा। आपके मन में भी ये सवाल उठा होगा कि ब्लॉकचेन क्या है और ये कैसे काम करती है। तो आपको ऐसे तमाम सवालों का जवाब हमारी खबर में मिलेगा। इसके बाद आप ब्लॉकचेन के नाम सुनने पर प्रतिक्रिया के साथ विषलेषण भी कर पाएंगे।

क्या है ब्लॉकचेन…

ब्लॉकचेन एक तकनीक है। हम इस तकनीक के जरिए करेंसी ही नहीं, बल्कि किसी भी चीज को डिजिटल फॉरमेट में बदलकर स्टोर कर सकते है। ये प्लेटफॉर्म लेजर की तरह है। विशेषज्ञों का मानना है कि ये एक तरह का एक्सचेंज प्रोसेस है, जो डेटा ब्लॉक पर काम करता है। इसमें हर एक ब्लॉक एक-दूसरे से कनेक्ट होते हैं और इन्हें हैक नहीं किया जा सकता है। इस तकनीक का उद्देश्य डॉक्यूमेंट्स को डिजिटली सुरक्षित रखना है।

READ ALSO-  विलेन बनकर फेमस हुए तेज सप्रू अब करना चाहते हैं कॉमेडी, बाल शिव में प्रजापति दक्ष के रूप में आएंगे नजर

आपको बता दें सन 1991 में स्टुअर्ट हबर और डब्ल्यू स्कॉट स्टोर्नेटो ने ब्लॉकचेन तकनीक का इस्तेमाल किया था।

ब्लॉकचेन से होने वाले फायदे
डेटा रहेगा पूरी तरह से

सुरक्षित :- ब्लॉकचेन बेस्ड सिस्टम काफी सुरक्षित है। यह इस तकनीक का एक बड़ा लाभ है। ब्लॉकचैन के काम करने के तरीके की बात करें तो ये तकनीक एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन के साथ लेनदेन का एक अपरिवर्तनीय रिकॉर्ड बनाती है, जो धोखाधड़ी और अनधिकृत गतिविधि को रोकने में मदद करती है। इसके अलावा ब्लॉकचेन पर डेटा कंप्यूटर के एक नेटवर्क में संग्रहीत किया जाता है, जिससे इसे हैक करना लगभग असंभव हो जाता है।

 

कॉस्ट होगी कम :- ब्लॉकचेन की प्रकृति भी संगठनों के लिए लागत में कटौती कर सकती है। यह लेनदेन को संसाधित करने में दक्षता पैदा करता है। इस तकनीक से डेटा एकत्र करने और संशोधित करने के साथ-साथ रिपोर्टिंग और ऑडिटिंग प्रक्रियाओं को आसान बनाने का काम करता है। कुलमिलाकर कहें कि ब्लॉकचेन व्यवसायों को बिचौलियों – विक्रेताओं और तीसरे पक्ष के प्रदाताओं को समाप्त करके लागत में कटौती करने में मदद करता है।

READ ALSO-  अब सुपर मार्केट और जनरल स्टोर्स में भी मिलेगी शराब, इस राज्य की सरकार ने लिया बड़ा फैसला...

दृश्यता और पता लगाने

योग्यता :- वॉलमार्ट द्वारा ब्लॉकचेन का उपयोग केवल गति के बारे में नहीं है; यह उन आमों और अन्य उत्पादों की उत्पत्ति का पता लगाने की क्षमता के बारे में भी है। यह वॉलमार्ट जैसे खुदरा विक्रेताओं को इन्वेंट्री को बेहतर ढंग से प्रबंधित करने, समस्याओं या सवालों का जवाब देने और अपने माल के इतिहास की पुष्टि करने की अनुमति देता है। यदि किसी विशेष खेत को संदूषण के कारण अपनी उपज को वापस बुलाना पड़ता है, तो ब्लॉकचैन का उपयोग करने वाला एक खुदरा विक्रेता अपनी शेष उपज को बिक्री के लिए छोड़ते हुए उस विशेष खेत से आने वाली उपज को पहचान सकता है और हटा सकता है।

READ ALSO-  43 की उम्र में मान्यता दत्त पर चढ़ा बोल्डनेस का खुमार, बैकलेस फिटेड ड्रेस पहन दिए ऐसे पोज

स्पीड :- बिचौलियों को खत्म करने के साथ-साथ लेन-देन में शेष मैन्युअल प्रक्रियाओं को बदलकर, ब्लॉकचेन पारंपरिक तरीकों की तुलना में लेनदेन को काफी तेजी से संभाल सकता है। कुछ मामलों में, ब्लॉकचेन लेनदेन को सेकंड या उससे कम समय में संभाल सकता है। हालाँकि, समय भिन्न हो सकता है; एक ब्लॉकचेन-आधारित प्रणाली कितनी जल्दी लेन-देन की प्रक्रिया कर सकती है, यह कई कारकों पर निर्भर करता है, जैसे कि डेटा का प्रत्येक ब्लॉक कितना बड़ा है और नेटवर्क ट्रैफिक कितना बड़ा है। फिर भी, विशेषज्ञों ने निष्कर्ष निकाला है कि ब्लॉकचेन आमतौर पर स्पीड के मामले में अन्य प्रक्रियाओं और अन्य तकनीक को कड़ी टक्कर दे सकता है।