Press "Enter" to skip to content

उत्तरप्रदेश में फंसे बलौदाबाजार-भाठापारा जिले के 15 श्रमिको के लिए कराई गई भोजन एवं राशन की व्यवस्था, सभी श्रमिक है सुरक्षित, की जा रही है सतत् निगरानी

रायपुर. लॉक डाउन में उत्पन्न परिस्थितियों के कारण उत्तरप्रदेश में छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले के 15 मजदूरों के फंसे होने की सूचना मिलने पर राज्य शासन द्वारा उनके लिए तत्काल रहने आदि की व्यवस्था कर दी गई है. उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भूपेश भघेल के निर्देशन में देश के अन्य राज्यों में फंसे श्रमिको की व्यवस्था सुनिशित करने के लिए श्रम विभाग के सचिव सोनमणि बोरा को नोडल अधिकारी  नियुक्त कर संबंधित राज्यो के प्रशासनिक अधिकारियो से समन्वय कर ऐसे लोगो की सतत निगरानी की जा रही है. श्रम विभाग के अधिकारियों ने यंहा बताया कि उत्तर प्रदेश में छत्तीसगढ़ के बलौदा बाजार जिले के 15 श्रमिको की जानकारी मिलने के बाद उत्तर प्रदेश शासन के माध्यम से फंसे श्रमिको को तत्काल राहत के लिए 15 किलोग्राम आटा, 10 किलोग्राम चावल, 2 लीटर तेल, 5 किलोग्राम दाल तथा अन्य आवश्यक सामग्री की व्यवस्था की गई है. जरूरत के मुताबिक और अन्य व्यवस्था उत्तरप्रदेश शासन के जरिये करवाई जाएगी. श्रम विभाग के अधिकारियों द्वारा सतत निगरानी की जा रही है. अधिकारियो ने बताया कि फंसे श्रमिको के लक्ष्मीकांत से दूरभाष से समन्वय करने पर बताया कि सभी श्रमिक सुरक्षित हैं. उत्तर प्रदेश प्रशासन द्वारा उन्हें सभी आवश्यक सामग्री तात्कालिक व्यवस्था के रूप में की गई है. जरूरत के हिसाब से और राशन तथा अन्य सामग्री प्रदान की जाएगी.

READ ALSO-  Janjgir : "तुंहर कांग्रेस तुंहर द्वार" अभियान के लिए जिला एवं विधानसभा वार समिति गठित, जानिए... समिति में किन नेताओं मिली जगह...
error: Content is protected !!