Press "Enter" to skip to content

रोका-छेका संकल्प अभियान का प्रभावी अमल शुरू, 18 आवारा मवेशियों भेजा गया कांजी हाऊस

जांजगीर-चाम्पा. राज्य शासन द्वारा 19 जून को महत्वाकांक्षी नरवा गरवा घुरवा बारी योजना अंतर्गत छत्तीसगढ़ के पारंपरिक रोका छेका संकल्प अभियान के प्रभावी अमल के निर्देश पर नगर पालिका प्रशासन ने कार्यवाही शुरू कर दी है. नगर पालिका अध्यक्ष भगवानदास गढ़ेवाल और मुख्य नगरपालिका अधिकारी मनोज सिंह के मार्ग निर्देशन में आज नगर के मुख्य मार्गों में खुले में घूमने वाले आवारा 18 पशुओं को काऊ केचर द्वारा पकड़कर पालिका द्वारा बनाए गए कांजी हाउस में रखा गया. नगरपालिका द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया है कि राज्य शासन के निर्देश पर शहरों के आसपास स्थित फसलों, बाड़ियों ,उद्यानों आदि की सुरक्षा हेतु रोका छेका जैसी पारंपरिक तरीका अपनाना जरूरी है. नगर को आवारा पशु मुक्त, साफ सुथरा एवं स्वच्छ रखने के साथ-साथ दुर्घटना मुक्त रखने हेतु मुख्यमंत्री के निर्देश पर 19 से 30 जून तक प्रभावी अभियान चलाया जावेगा. इसके लिए पालिका द्वारा नगर में मुनादी भी कराई जा रही है तथा पशुपालकों को अपने मवेशियों को घर में रखने की अपील की जा रही है. इसके अलावा रोका छेका संकल्प पत्र भरवाने का कार्य भी प्रारंभ किया गया है. बताया गया है कि निर्धारित समय अवधि पर पशुपालकों द्वारा कार्यवाही में अमल नहीं करने पर 1000 रु का जुर्माना वसूल किया जावेगा.
पालिका प्रशासन द्वारा पशुपालकों से सड़कों में छोड़े गए पशुओं को अपने घर में रखे की अपील की है.

READ ALSO-  नगर पंचायत जैजैपुर में अध्यक्ष ने किया ध्वजारोहण, अमर शहीदों को याद किया गया