Press "Enter" to skip to content

कोरोना से बचने मनरेगा कार्यस्थल पर 12 बिंदुओं में ‘क्या करें और क्या नहीं करें’ का दिया जा रहा संदेश, मनरेगा कार्यस्थल फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क लगाने, तंबाकू, खैनी को कार्यस्थल पर नहीं थूंकने के दिए गए निर्देश

जांजगीर-चांपा. महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना (मनरेगा) के माध्यम से कार्यस्थल पर कोरोना से बचने के लिए ‘क्या करें और क्या नहीं’ के संदेश का वाचन किया जा रहा है। नोवेल कोरोना वायरस से निपटने और इसके संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए तैयार किया गया 12 बिंदुओं का जनजागृति संदेश मनरेगा के मजदूरों सहित ग्रामीणों में सकारात्मक प्रभाव डाल रहा है। जिसका प्रभाव यह हो रहा है वे इस संदेश का वाचन शपथ की तरह लेकर कर रहे हैं।
[su_heading]इस खबर को भी देखिए…[/su_heading]
[su_youtube url=”https://youtu.be/v33uP3rD33Y”]
मुख्य कार्यपालन अधिकारी तीर्थराज अग्रवाल ने बताया कि कलेक्टर एवं जिला कार्यक्रम समन्वयक यशवंत कुमार के द्वारा वैश्विक महामारी कोरोना कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार की रोकथाम के लिए लगातार निर्देश दिए जा रहे हैं। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान ग्रामीण श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर रोजगार मुहैया कराने, कार्यस्थल पर फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करने, मास्क लगाने और सतत हाथों को पानी, साबुन एवं सैनिटाइजर से धोने के निर्देश दिए हैं। श्री अग्रवाल ने बताया कि भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा दिए जा रहे निर्देशों के माध्यम से मनरेगा कार्यस्थल पर मजूदरों, ग्रामीणों को संक्रमण से बचने के उपाय बताये जा रहे हैं। इसके तहत 12 बिंदुओं पर दी गई जानकारी का प्रसार सतत किया जा रहा है और आगे भी जारी रहेगा। सोमवार को बलौदा विकासखण्ड मनरेगा कार्यक्रम अधिकारी श्री ह्रदयशंकर द्वारा ग्राम पंचायत महुदा ब में वाचन किया तो रोजगार सहायक के माध्यम से जाटा, बोकरामुडा में कार्य के वाचन हुआ। इसके अलावा पामगढ़ जपं की ग्राम पंचायत धनगांव में तालाब गहरीकरण के दौरान रोजगार सहायक के द्वारा मजदूरों को 12 बिंदुओं की जानकारी दी गई। इस दौरान भूपेन्द्र सिंह,छत्रपाल लहरे, लालू यादव, रजनी यादव, रामप्रसाद लहरे, चंद्रिका लहरे आदि मजदूर उपस्थित रहे। जैजैपुर जपं के ग्राम पंचायत हरेठीकला, अकलतरा जपं के ग्राम पंचायत बरपाली, पिपरसत्ती में संदेश को मजदूरों ने ध्यान से सुना एवं अपने प्रतिदिन के कार्यों में शामिल करने की शपथ ली।

12 बिंदुओं में छुपा कोरोना से बचने का संदेश
जिपं सीईओ श्री अग्रवाल ने बताया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए कार्यस्थल पर 12 बिंदुओं पर शासन द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार वाचन कराकर मजदूरों, ग्रामीणों को बताया जा रहा हैं। इसके लिए जनपद पंचायत सीईओ, मनरेगा कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिए गए हैं कि वे प्रत्येक सप्ताह कार्य प्रारंभ करने के पूर्व कार्यस्थल पर 12 बिंदु के संदेशों का वाचन ग्राम रोजगार सहायक, पंचायत सचिव के माध्यम से कराया जाए। प्रत्येक सप्ताह मनरेगा के मजदूरों को बताया जाएगा कि वे सार्वजनिक स्थानों पर तंबाकू, खैनी इत्यादि न चबाए और न ही थूंके, सार्वजनिक स्थानों पर न्यूनतम 1 मीटर की भौतिक, शारीरिक दूरी बनाएं रखेे, श्वसन और हाथ की स्वच्छता सहित व्यक्तिगत स्वच्छता बनाए रखेे, हाथ से बने एवं पुनः उपयोग में लाये जा सकने वाले मास्क से हर समय चेहरा ढंकेे, मास्क न होने पर साफ-सुथरे कपड़े,गमछे से चेहरा ढंके साथ ही आंख, नाक और मुंह को छूने से बचेे, छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को ढककर रखे, अपने हाथों को बार-बार साबुन और पानी से धोने, साबुन और पानी उपलब्ध न होने पर कम से कम 60 प्रतिशत अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करने की सलाह दी जा रही है। घर के अंदर या बाहर स्वच्छता नियमित रखने और स्पर्श वाली सतहों को कीटाणुरहित करने, अनावश्यक यात्रा से बचने, कोरोना को हराने वालों या उससे लड़ने वालों को स्वीकार करने, उनका तिरस्कार न करने के साथ ही सामाजिक आयोजनों और भीड़-भाड़ वाली जगहों से दूर रहने, बिना हाथ मिलाये और गले मिले, हाथ जोड़कर अभिवादन करें और उसे स्वीकार भी करें।

READ ALSO-  BIG NEWS : जांजगीर. बम्हनीडीह क्षेत्र में साइकल सवार शख्स की मौत, वाहन की टक्कर से हुई मौत