Press "Enter" to skip to content

रोजगार सहायक पर ग्रामीणों ने गड़बड़ी का आरोप लगाया, कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ से की शिकायत, बिना काम किए पत्नी और मां के नाम पर निकाली राशि, ग्रामीणों ने अन्य तरह से और भी गड़बड़ी करने की शिकायत की, शिकायत के बाद रोजगार सहायक पर धमकाने का भी आरोप

जांजगीर-चाम्पा. जैजैपुर जनपद क्षेत्र के सेंदुरस पंचायत के रोजगार सहायक पुष्पेंद्र साहू पर फर्जी तरीक़े से मनरेगा की राशि का गबन करने आरोप लगा है. ग्रामीणों ने कलेक्टर और जिला पंचायत सीईओ को लिखित शिकायत कर बताया है कि रोजगार सहायक की पत्नी और मां ने मनरेगा में कभी कार्य नहीं किया, लेकिन रोजगार सहायक ने पत्नी और मां के नाम पर 29 हजार 24 रुपये आहरण किया है. ग्रामीणों का यह भी आरोप है कि मजदूर के नाम पर अन्य व्यक्ति को काम करना बताकर राशि निकाली गई है. जिन लोगों ने मनरेगा में काम नहीं किया, उनके नाम पर लाखों रुपये रोजगार सहायक ने आहरित कर लिया है.

ग्रामीणों का कहना है कि शिकायत के बाद रोजगार सहायक पुष्पेंद्र साहू, धमकाता है और देख लेने की बात कहता है. ग्रामीणों ने 2015 से अब तक के मनरेगा में हुई गड़बड़ी की जांच की मांग की है.
इधर, मामले की शिकायत के बाद जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने जांच दल गठित होने की बात कही है और जैजैपुर जनपद सीईओ को जांच के लिए निर्देशित किया गया है. उनका कहना है कि जांच में जो तथ्य आएंगे, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी.
[su_heading]इस खबर को भी देखिए…[/su_heading]
[su_youtube url=”https://youtu.be/fpIbkExJMDg”]

READ ALSO-  विधायक नारायण चन्देल ने नवागढ़ क्षेत्र के किसानों को कृषि यंत्रों का वितरण किया