छत्तीसगढ़ जांजगीर-चाम्पा देश-विदेश

Good News : ऑटोमोबाइल इंजीनियर ने हाइड्रोजन से चलने वाला फ्यूल इंजन बनाया, पानी से कार्बन मुक्त फ्यूल इंजन का कराया पेटेंट, दुनिया में जापान, अमेरिका और कोरिया ही इस तकनीक पर कर रहा है काम

Share on-

जांजगीर-चाम्पा. पामगढ़ क्षेत्र के बोरसी गांव के रहने वाले युवक राहुल भारद्वाज ने हाइड्रोजन से चलने वाला फ्यूल इंजन बनाया है और अब इसका पेटेंट भी हो गया है. राहुल ने जो इंजन बनाया है, उस तकनीक पर अभी जापान, अमेरिका और कोरिया जैसे कुछ चुनिंदा देश ही काम कर रहा है. हिंदुस्तान में हाइड्रोजन से चलने वाला फ्यूल इंजन नया कांसेप्ट है, जिसमें पानी की जरूरत होगी और इस तकनीक से जहां पेट्रोल-डीजल की आयात रुकेगा, वहीं कार्बन मुक्त ईंधन बनेगा, जो पर्यावरण के लिए भी बेहतर होगा.

युवक राहुल भारद्वाज का कहना है कि वह अभी बैंगलोर की कम्पनी में कार्यरत है, लेकिन उनकी मंशा छत्तीसगढ़ में इस तकनीक पर काम को आगे बढ़ाने की है, क्योंकि छग में नदियों का जाल फैला है और पानी की कोई कमी नहीं है. हाइड्रोजन फ्यूल इंजन के पेटेंट होने के बाद युवक राहुल भारद्वाज को अब छग सरकार और केंद्र सरकार से बड़ी उम्मीद है कि इस नई तकनीक की दिशा में काम करने सरकार पूरी मदद करे.

30 वर्षीय युवक राहुल भारद्वाज की स्कूल की पढ़ाई नवोदय विद्यालय मल्हार से हुई है. इसके बाद वह कर्नाटक के गुलबर्ग में आटोमोबाइल इंजीनियरिंग की.
आटोमोबाइल इंजीनियरिंग के बाद यहां राहुल भारद्वाज ने कुछ अलग करने का ठाना और 2010 में इस हाइड्रोजन फ्यूल टैंक के प्रोजेक्ट पर काम शुरू किया. 2013 में प्रोजेक्ट को पेटेंट के लिए भेजा, जिसके बाद 2019 में प्रोजेक्ट का पेटेंट मिला.

अब 10 साल की मेहनत को राहुल भारद्वाज ने सरकार से मिलकर आगे बढ़ाने की मंशा बनाई है और पहली प्राथमिकता छग में काम करने की है. राहुल का कहना है कि हाईड्रोजन फ्यूल इंजन की तकनीक, पानी पर आधारित है. छग में पानी भी बहुत है. ऐसे में छग सरकार की मदद मिल जाए तो इस प्रोजेक्ट को आगे ले जाकर देश-दुनिया में छग का नाम रौशन होगा.

राहुल भारद्वाज का कहना है कि इस तकनीक से देश में पेट्रोल-डीजल के आयात पर होने वाले खर्च को बचाया जा सकता है. कार्बन से मुक्त ईंधन, इस तकनीक से बनेगा तो ये हर दृष्टिकोण से देश और समाज के लिए यह तकनीक लाभकारी साबित होगी.

बेटे राहुल की उपलब्धि पर पिता धरमलाल भारद्वाज, मां सरोज भारद्वाज एवं सभी परिजन बहुत खुश हैं और उन्हें उम्मीद है कि सरकार की मदद के बाद उनका बेटा, छग और देश का नाम रौशन करेगा.


Share on-
IMG-20210103-WA0002
IMG-20210105-WA0001
IMG-20210105-WA0000
error: Content is protected !!