Press "Enter" to skip to content

इंग्लैंड की टीम का 2021 में हाल हुआ बेहाल, आंकड़े देखकर आप भी हैरान रह जाएंगे…

नई दिल्ली. आस्ट्रेलिया के खिलाफ एशेज सीरीज से पहले इंग्लैंड की टीम के कप्तान जो रूट ने एक बयान दिया था कि एशेज सीरीज में पता चलेगा कि वे कैसे बल्लेबाज हैं और किस तरह के कप्तान। बल्लेबाज के तौर पर फिर भी जो रूट का प्रदर्शन ठीक रहा, लेकिन एक कप्तान के तौर पर कोई भी नहीं चाहेगा कि पांच मैचों की टेस्ट सीरीज तीन मैचों के बाद ही आप हार जाएं। यही हुआ है इंग्लैंड के साथ, क्योंकि टीम पांच मैचों की सीरीज में 0-3 से पिछड़ गई है और एक शर्मनाक रिकार्ड इंग्लैंड की टीम के कप्तान और बल्लेबाज के नाम दर्ज हो गया है।

इंग्लैंड की टीम और टीम के कप्तान जो रूट एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा टेस्ट मैच हारने वाले कप्तानों की लिस्ट में संयुक्त रूप से पहले स्थान पर आ गए हैं। इंग्लैंड की टीम ने इस साल जो रूट की कप्तानी में कुल 9 टेस्ट मैच हारे हैं। इतने ही टेस्ट मैच एक साल में बांग्लादेश की टीम ने खालेद महमूद की कप्तानी में हारे थे। बांग्लादेश फिर भी उस समय टेस्ट क्रिकेट में नई-नई थी, लेकिन इंग्लैंड की टीम के लिए और टीम के कप्तान के लिए ये शर्मनाक बात है, क्योंकि इंग्लैंड की टीम 100 साल से ज्यादा समय से टेस्ट क्रिकेट खेल रही है और कभी टीम का प्रदर्शन ऐसा नहीं रहा।

READ ALSO-  'गेंदबाज' रोहित शर्मा का रिकॉर्ड साउथ अफ्रीका में इन 2 दिग्गजों से है बेहतर, शर्मनाक हैं इनके आंकड़े

अतिरिक्त रन तीसरे नंबर पर
हैरान करने वाली बात ये है कि इस साल इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा रन जो रूट ने बनाए। जो रूट ने अकेले 1708 रन बनाए, जबकि दूसरे नंबर पर इंग्लैंड के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में रोरी बर्न्स थे, जो 530 रन बनाने में सफल हुए। इन आंकड़ों से आपको हैरानी जरूर हुई होगी कि जो रूट को किसी का साथ नहीं मिला। इसके भी ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि इंग्लैंड की टीम को साल 2021 में इतने रन एक्स्ट्राज के रूप में मिल गए, जितने रन इस साल तीसरा बल्लेबाज नहीं बना पाए। एक्स्ट्राज के रूप में इंग्लैंड को इस साल 412 रन मिले, जबकि चौथे नंबर पर जानी बेयरेस्टो थे, जिन्होंने 391 रन बनाए।

READ ALSO-  IND vs SA : जब क्रीज के एक तरफ ही पहुंचे राहुल-पंत, फिर भी नहीं हुए आउट, जानिए... क्या है पूरा माजरा..

जो रूट एक बल्लेबाज, बल्लेबाज के रूप में कप्तान के तौर पर रिकार्ड पर रिकार्ड बनाते चले गए, लेकिन उनको किसी अन्य बल्लेबाज की तरफ से साथ नहीं मिला। एक कैलेंडर ईयर में जो रूट सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बने, जबकि एक कैलेंडर ईयर में वे सबसे ज्यादा टेस्ट रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में तीसरे नंबर पर रहे। वहीं, इंग्लैंड की टीम 100 से कम रन पर 36वीं बार टेस्ट क्रिकेट में आल आउट हुई है और इतनी बार ही आस्ट्रेलिया की टीम भी 100 रन से पहले आल आउट हुई है।