Press "Enter" to skip to content

भूखे पेट था मजदूर, कमाई की रकम मांगी तो मिली मौत, छत्तीसगढ़ के मजदूर की उत्तरप्रदेश के ईंट भट्ठे में पीट-पीटकर हत्या… पढ़िए पूरी खबर…

जांजगीर-चांपा. जिले के एक मजदूर को उत्तरप्रदेश में ईट भट्ठा संचालक ने इतना पीटा कि उसकी मौत हो गई. मौत के बाद ईट भट्ठा संचालक ने परिजन को थाने में रिपोर्ट लिखाने भी नहीं दिया और परिजन को धमका कर उसकी लाश को ऐंबुलेंस में उसके गांव कुदरी भेज दिया. शव के गांव पहुंचने पर परिजन ने जांजगीर पुलिस को मामले की सूचना दी और ईट भट्ठा संचालक द्वारा मजदूर की हत्या का आरोप लगाया, जिसके बाद पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्ट मार्टम कराया और जांच शुरू कर दिया है. आगे की कार्रवाई के लिए पोस्ट मार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है.जांजगीर के सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के कुदरी गांव का रहने वाला राजगीर सोनझरी उम्र 40 साल अपनी पत्नी बसंत बाई सोनझरी और तीन बेटियों के साथ महीने भर पहले उत्तर प्रदेश में ईलाहाबाद के ईंट भट्ठे में काम करने जिले के अन्य 40 मजदूरों के साथ गया था, जहां ईट भट्ठा संचालक प्रवीण त्रिपाठी के ईट भट्ठे में काम कर रहा था. कुछ दिन काम करने के बाद मौसम खराब हुआ और काम बंद करना पड़ा. इस बीच ईट भट्ठा संचालक के द्वारा उसे पैसों का भुगतान भी नहीं किया गया, जिसकी वजह से उसके सामने भूख मरने की नौबत आ गई. इसी दौरान मजदूर 24 जनवरी को मजदूर राजगीर सोनझरी ने खाने-पीने के लिए ईट भट्ठा संचालक प्रवीण त्रीपाठी से पैसों की मांग की, जिस पर काम बंद होने के बावजदू पैसों की मांग करते हो ऐसा कहते हुए ईट भट्ठा संचालक ने राजगीर सोनझरी से मारपीट की.मारपीट से उसकी हालत गंभीर हो गई तब उसे इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई, जिसके बाद ईट भट्ठा संचालक प्रवीण त्रिपाठी ने रिपोर्ट दर्ज नहीं कराने के लिए उसके परिवार को धमकाया और शव को उसके परिवार के साथ ऐंबूलेंस से कुदरी गांव भेज दिया, जिसके बाद परिजन ने जांजगीर पुलिस को सूचना दी और पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्ट मार्टम करा शव परिजन को सौप दिया है. पोस्ट मार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की जांच और कार्रवाई करने की बात कही है.

मामले में राजगीर सोनाझरी के परिजन ने आरोप लगाया है कि ईट भट्ठा संचालक प्रवीण त्रिपाठी ने राजगीर के मौत के बाद जब थाना जाने की बात कही, तब उसने धमकाते हुए कहा कि अगर थाने जाओगे तो कोई जिंदा नही जाएगा तुम सबको मारकर गंगा नदी में फेंक देंगे.

 

READ ALSO-  जल्द मिलेगी 5G नेटवर्क की स्पीड, किया गया सफल परीक्षण, केंद्रीय मंत्री ने किया...वीडियो कॉल पढिए

40 मजदूरों को पामगढ़ क्षेत्र की महिला दलाल लेकर गई थी उत्तर प्रदेश

मृतक राजगीर सोनझरी के परिजन ने बताया कि एक माह पहले कुदरी गांव के साथ जिले के 40 मजदूरों को पामगढ़ की महिला दलाल ने काम दिलाने का लालच देकर उत्तरप्रदेश के प्रवीण त्रिपाठी के ईट भट्टा में पहुंचाया, जहां 3 सप्ताह काम करने के बाद मौसम में खराबी से ईट बनना बंद हो गया और ईट भट्टा मालिक ने खाना के लिए लिए सप्ताह भर में 7 सौ रुपए दिए, जिससे गुजारा नहीं चल पा रहा था. घटना के बाद से मजदूर दलाल महिला का कोई पता नही चल रहा है, वह अंडर ग्राउंड हो चुकी है.

error: Content is protected !!