Press "Enter" to skip to content

पूर्व मिस यूनाइटेड का निधन, 2 महीने तक कोमा में रहने के बाद थम गई सांस

ब्राजील. टॉन्सिल से पीड़ित पूर्व मिस ब्राजील ग्लीसी कोर्रिया की मौत हो गई। निधन की खबर मिलते ही देश में शोक की लहर दौड़ गई। कई लोगों ने सोशल मीडिया पर ग्लीसी को श्रद्धांजलि दी है। बता दें कि पूर्व मिस ब्राजील ग्लीसी कोर्रिया टॉन्सिल की समस्या से जूझ रही थी।

इससे छुटकारा पाने के लिए उन्होंने अप्रैल में ऑपरेशन कराया था। दक्षिण-पूर्वी ब्राजील के मकाई की रहने वाली ग्लीसी कोर्रिया को ऑपरेशन के 5 दिन बाद अधिक रक्तस्राव हुआ और दिल का दौरा पड़ा। इसके बाद वह कोमा में चली गईं थीं। 2 महीने से अधिक समय तक कोमा में रहने के बाद एक निजी हॉस्पिटल में उनकी मौत हुई।

READ ALSO-  16GB रैम और पावरफुल प्रोसेसर के साथ आ रहा है...इस कंपनी गेमिंग फोन...पढ़िए

उनके रिश्तेदारों ने इलाज पर लापरवाही का आरोप लगाया है। सोशल मीडिया पर लिखा परिजनों ने एक पोस्ट शेयर किया है। जिसमें कहा है कि उसके टॉन्सिल के ऑपरेशन के दौरान डॉक्टरों से कोई गलती हुई थी। इसी वजह से उसकी तबीयत बिगड़ी थी।

ग्लीसी की मौत के बाद पुलिस ने उसके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए मैके के फोरेंसिक मेडिसिन इंस्टीट्यूट भेजा था। अब रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।

READ ALSO-  Today Petrol Price : 15 रुपए बढ़े पेट्रोल के दाम, डीजल की कीमतों में भी हुई इतनी बढ़ोतरी, जनता को एक और बड़ा

ग्लीसी कोर्रिया की उपलब्धियां
ग्लीसी कोर्रिया को 2018 में मिस यूनाइटेड कॉन्टिनेंट्स ब्राजील और मिस कोस्टा डो सोल का ताज पहनाया गया था। ग्लीसी की मौत के बाद मिस ब्राजील ऑफिशियल ने एक बयान में कहा कि, “ग्लीसी को हमेशा उनकी प्रबुद्ध सुंदरता, हंसी और सहानुभूति के लिए याद किया जाएगा। ” बता दें कि ग्लीसी एक सोशल मीडिया स्टार भी थीं। उनके इंस्टाग्राम पर 52,000 से ज्यादा फॉलोअर्स हैं।

READ ALSO-  Janjgir Rahul Birthday : बहादुर राहुल साहू का मनाया गया जन्मदिन, उत्सव में परिजन और ग्रामीण हुए शामिल, राहुल की मुस्कान से लोगों में दिखा उत्साह

टॉन्सिल क्या है और कैसे होता है
टॉन्सिल गले से जुड़ी बीमारी है। इसमें गले के दोनों ओर सूजन की समस्या हो जाती है। इसके शुरुआती चरण में पीड़ित के मुंह के अंदर गले के दोनों ओर दर्द होता है। कई मामलों में बार-बार बुखार की भी शिकायत आती है। इसके अलावा टॉन्सिल से कई और समस्याएं भी सामने आने लगती हैं।

error: Content is protected !!