Press "Enter" to skip to content

फोन पर मैसेज क्लिक करने से 20 हजार ठगी के हुए शिकार, पुलिस ने रकम वापस कराई तो शख्स ने 10 हजार रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष में दिया, कहां का है पूरा मामला… पढ़िए

जांजगीर-चाम्पा. 6 अप्रेल को मनोज शर्मा ने थाना चाम्पा में शिकायत दर्ज कराई कि किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन कर बातों में उलझा कर मोबाईल पर एक मैसेज पढ़ने को कहा गया. उक्त मैसेज को पढ़ने पर एक लिंक आया, जिसे क्लिक करने पर प्रार्थी के एकाउंट से 20,000 रू कट गये, जिसके पश्चात् अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन नही उठाया गया, जिससे प्रार्थी को ठगी होने का एहसास हुआ. थाना चाम्पा द्वारा उपरोक्त शिकायत की जानकारी तत्काल सायबर सेल जांजगीर को दी गई, जिस पर सायबर सेल द्वारा पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारूल माथुर के निर्देशन पर एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस चाम्पा के मार्ग दर्शन पर जांच कराया गया, जांच पर पाया गया कि आवेदक के फोन-पे से यूपीआई के माध्यम से पेटीएम एकाउंट में 20,000 रूपये ट्रांसफर हुए है. सायबर सेल जांजगीर की टीम द्वारा तत्काल संबंधित ई-कामर्स कंपनी से संपर्क कर उपरोक्त ठगी की गई रकम को होल्ड कराकर रकम आवेदक के एकाउंट में पुनः वापस कराया गया. आवेदक मनोज शर्मा द्वारा वापस आये रकम मे से 10,000 रू. को कोविड-19 कोरोना वायरस के बचाव हेतु मुख्यमंत्री राहत में कोष में जमा कराने हेतु पुलिस अधीक्षक को सौपा गया है.
सावधान और अलर्ट रहें… पुलिस की अपील
आम जनता द्वारा इस समय लाॅक-डाउन के मद्देनजर घर से ही ऑनलाइन शाॅपिंग एवं पैसा लेनदेन किया जा रहा है, जिसका फायदा उठाते ही ऑनलाइन फ्राॅड करने वालो के द्वारा लोगो को फोन कर या लिंक भेजकर पैसो की ठगी की जा रही है, जिससे सतर्क रहने की आवश्यकता है. आम जनता से अपील है कि अपना डेबिट/क्रेडिट कार्ड नंबर, सीवीवी नंबर, ओटीपी एवं खाते की जानकारी किसी से भी शेयर ना करें एवं किसी अज्ञात लिंक पर क्लिक ना करें. यदि ऐसी कोई घटना आपके साथ होती है तो तत्काल संबंधित थाना अथवा सायबर सेल जांजगीर को सूचित करें.



Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!