Press "Enter" to skip to content

छत्तीसगढ़ में अब तक 13 करोड़ के 46 हजार क्विंटल वनोपजों का हुआ संग्रहण, वन मंत्री ने धीमी गति वाले 9 वन मंडलों के संग्रहण पर जताया असंतोष

रायपुर. राज्य में चालू सीजन के दौरान वनवासियों तथा ग्रामीणों द्वारा अब तक 12 करोड़ 64 लाख रूपए की राशि के 46 हजार 213 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हो चुका है। इनमें निर्धारित लक्ष्य के तहत अब तक वन मंडलवार सबसे अधिक नारायणपुर वन मंडल द्वारा एक करोड़ 85 लाख रूपए की राशि के 6 हजार 133 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हुआ है। वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने इनमें 9 वन मंडलों को अपने निर्धारित लक्ष्य के एक प्रतिशत से भी कम अथवा धीमी गति से संग्रहण पर असंतोष व्यक्त किया है और संबंधित वन मंडलाधिकारियों को तेजी से संग्रहण सुनिश्चित करने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं। इनमें जशपुर, सूरजपुर, महासमुंद, बलरामपुर, धर्मजयगढ़, सरगुजा, कोरिया, मनेन्द्रगढ़ और मरवाही वन मंडल शामिल हैं।
छत्तीसगढ़ राज्य लघु वनोपज सहकारी संघ के प्रबंध संचालक ने बताया कि राज्य में अब तक संग्रहित वनोपजों में वन मंडलवार नारायणपुर में एक करोड़ 85 लाख रूपए की राशि के 6 हजार 133 क्विंटल, दक्षिण कोण्डागांव में 2 करोड़ 71 लाख रूपए की राशि के 9 हजार 92 क्विंटल तथा केशकाल में एक करोड़ 41 लाख रूपए की राशि के चार हजार 881 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हुआ है। इसी तरह दंतेवाड़ा में एक करोड़ 64 लाख रूपए की राशि के 5 हजार 419 क्विंटल, जगदलपुर में 2 करोड़ 19 लाख रूपए की राशि के 7 हजार 515 क्विंटल, बालोद में 12 लाख रूपए की राशि के 613 क्विंटल, खैरागढ़ में 31 लाख रूपए की राशि के 1027 क्विंटल, कांकेर में 24 लाख रूपए की राशि के एक हजार 280 क्विंटल, कवर्धा में 15 लाख रूपए की राशि के 549 क्विंटल और सुकमा में 38 लाख रूपए की राशि के एक हजार 419 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हो चुका है।
वन मंडलवार पूर्व भानुप्रतापुर में 21 लाख रूपए की राशि के 907 क्विंटल, पश्चिम भानुप्रतापुर में 10 लाख रूपए की राशि के 673 क्विंटल, धमतरी में 17 लाख रूपए की राशि के 646 क्विंटल, बिलासपुर में 7 लाख रूपए की राशि के 342 क्विंटल, बीजापुर में 22 लाख रूपए की राशि के एक हजार 209 क्विंटल तथा बलौदाबाजार में 13 लाख रूपए की राशि के 625 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हुआ है। रायगढ़ में 7 लाख रूपए की राशि के 524 क्विंटल, गरियाबंद में 20 लाख रूपए की राशि के 880 क्विंटल, कोरबा में 7 लाख रूपए की राशि के 328 क्विंटल, राजनांदगांव में 2 लाख रूपए की राशि के 155 क्विंटल, कटघोरा में 5 लाख रूपए की राशि के 259 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हो चुका है। इसके अलावा निर्धारित लक्ष्य के एक प्रतिशत से कम संग्रहण वाले 9 विभिन्न वन मंडलों के अंतर्गत जशपुर में 5 लाख रूपए की राशि के 292 क्विंटल, सूरजपुर में 7 लाख रूपए की राशि के 306 क्विंटल, महासमुंद में 2 लाख रूपए की राशि के 116 क्विंटल, बलरामपुर में छह लाख रूपए की राशि के 283 क्विंटल तथा धर्मजयगढ़ में 4 लाख रूपए की राशि के 254 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हुआ है। सरगुजा में 2 लाख रूपए की राशि के 140 क्विंटल, कोरिया में 3 लाख रूपए की राशि के 187 क्विंटल, मनेन्द्रगढ़ में 2 लाख रूपए की राशि के 133 क्विंटल और मरवाही में 26 हजार रूपए की राशि के 26 क्विंटल वनोपजों का संग्रहण हो चुका है।
[su_heading]इस खबर को भी देखिए…[/su_heading]
[su_youtube url=”https://youtu.be/EwKwIDHXuzU”]

READ ALSO-  Janjgir : कलेक्टोरेट घेरने जा रहे भाजपा कार्यकर्ताओं की पुलिस से हुई झूमाझटकी, राज्य सरकार के आदेश के खिलाफ भाजपा का प्रदर्शन
error: Content is protected !!