Press "Enter" to skip to content

सहकारी समिति के पूर्व अध्यक्ष यशवंत गबेल की हत्या, हमले से हुए थे घायल, बिलासपुर ले जाते वक्त हुई मौत, पुलिस ने दोनों आरोपी को हिरासत में लिया

जांजगीर-चाम्पा. मालखरौदा क्षेत्र के डोंगिया गांव में सहकारी समिति के अध्यक्ष यशवंत गबेल पर जानलेवा हमला किया गया था. गंभीर हालत में इलाज के लिए बिलासपुर ले जाते वक्त मौत हो गई. हत्या का आरोप गांव के ही बाप-बेटे पर लगा है. पुलिस ने दोनों आरोपी को हिरासत में ले लिया है.
दरअसल, डोंगिया गांव के दो लोगों के खेत की जमीन सम्बन्धी विवाद को सुलझाने पहुंचे थे. आरोप है कि यहां बुड़गा यादव और उसके बेटे गौतम यादव ने डण्डे से जमकर पिटाई की. टांगी से हमला किया गया. इससे यशवंत गबेल के शरीर के अनेक हिस्से में चोट आई और उसे बेहोशी की हालत में परिजन अस्पताल ले पहुंचे. यहां होश आने पर यशवंत गबेल ने डण्डे और टांगी से बुड़गा यादव और उसके बेटे गौतम यादव द्वारा हमला करने की बात कही. मामले की रिपोर्ट मालखरौदा थाने में दर्ज कराई गई.
इस बीच हालत गंभीर होने पर यशवंत गबेल को बिलासपुर रेफर किया गया, लेकिन रास्ते में दम तोड़ दिया.
[su_heading]इस खबर को भी देखिए…[/su_heading]
[su_youtube url=”https://youtu.be/aFOGGt0IUlg”]

एसपी पारुल माथुर ने बताया कि मारपीट की घटना हुई थी, जिसके बाद बिलासपुर रेफर किया गया था. रास्ते में मौत हो गई. मामले में आरोपी बाप-बेटे को हिरासत में ले लिया गया है.

READ ALSO-  Murder Arrest : जांजगीर. दादी की हत्या करने वाले आरोपी पोते को पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल, वारदात की ये रही वजह... पढ़िए...
error: Content is protected !!