Press "Enter" to skip to content

कलेक्टर कार्यालय सहित अन्य विभागीय कार्यालय भवनों की साफ-सफाई और सेनेटाइजेशन के बाद कार्यालयीन काम-काज शुरू

जांजगीर-चांपा. राज्य शासन के निर्देशानुसार आज जिला मुख्यालय सहित मैदानी शासकीय विभागीय कार्यालयों के भवनों की साफ-सफाई तथा सेनिटराइजेशन के बाद शासकीय कामकाज प्रारंभ हो गया। कलेक्टर जेपी पाठक द्वारा सभी विभागीय अधिकारियों को शासन के दिशा निर्देश तथा कोविड-19 वायरस से बचाव हेतु विभागीय कार्यालय भवनों की साफ-सफाई तथा सैनिटाइजेशन, सभी कार्यालय में हैंड वास, सेनेटाईजर की व्यवस्था के साथ मास्क लगाकर सोशल-फिजिकल डिस्टेंस का पालन सुनिश्चित करते हुए 4 मई से विभागीय कामकाज प्रारंभ करें के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर के निर्देश के परिपालन में आज कलेक्टर कार्यालय, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क संभाग कार्यालय, उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं कार्यालय, महिला एवं बाल विकास, जनसंपर्क, लोक निर्माण विभाग, जिला कारपोरेशन, जल संसाधन, नगरी निकाय के कार्यालय, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, जनपद पंचायत कार्यालय आदि विभागीय कार्यालयों द्वारा अपने कार्यालय भवनों को सेनेटराईजेशन के बाद फोटो वीडियो सेंड किया गया है।
कलेक्टर ने कोरोना संक्रमण से बचाव के सभी सुरक्षात्मक उपायों को अपनाते हुए जिले के सभी शासकीय कार्यालयों का संचालन 4 मई से प्रारंभ करने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित कर कहा है कि सेनेटाइजेशन, सोसल- फिजिकल डिस्टेंस का कड़ाई से पालन करते हुए अपने कार्यालय का संचालन करें। उन्होंने विभागीय कार्यालयों में राजपत्रित अधिकारियों की कार्य दिवस में शत-प्रतिशत उपस्थिति तथा अन्य अधिकारी-कर्मचारियों की उपस्थिति एक तिहाई होगी। इसके लिए रोस्टर बनाते हुए ड्यूटी लगाई जाने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने कहा है कि सभी शासकीय कार्यालयों में सेनिटाइजेशन एवं नियमित साफ-सफाई की व्यवस्था पूर्व में जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार की जाए। कार्यालय में बैठक व्यवस्था में सोशल-फिजिकल डिस्टेंस रखने के संबंध में समय-समय पर जारी दिशा-निर्देशों का अनिवार्य रूप से पालन किया जाए।
ज्ञातव्य है कि सामान्य प्रशासन विभाग से जारी परिपत्र में कहा गया है कि यथासंभव कार्य निष्पादन के लिए बैठकों का आयोजन न्यूनतम किया जाए, परन्तु आवश्यक होने पर बैठक के आयोजन में सोशल-फिजिकल डिस्टेंस गाईडलाईन का पालन करते हुए बैठक संपादित की जाए। कार्यालयों में जनसाधारण के साथ मिलना-जुलना यथा संभव न्यूनतम रखा जाए। कार्यालयों में आने-जाने वाले सभी आगन्तुकों को सोशल-फिजिकल डिस्टेंस गाईडलाईन के बारे में जागरूक तथा इसका पालन करते हुए लोक सेवाएं प्रदाय किया जाए। कार्यालय परिसर में उपयुक्त स्थल पर शिकायत पेटी रखी जाए, जिसमें आगन्तुकों द्वारा शिकायत डालने की सुविधा हो। प्राप्त शिकायतों को दर्ज कर पूर्व निर्धारित प्रक्रिया अनुसार उनका निराकरण किया जाए। किसी भी प्रकार के सामूहिक कार्यक्रम का आयोजन कार्यालयों में न किया जाए। कार्यालयों के कार्य संचालन के लिए अधिक से अधिक आॅनलाईन कार्य प्रणाली का उपयोग किया जाए। कार्यालय आने-जाने के लिए व्यवस्था में सोशल-फिजिकल डिस्टेंस गाईडलाईन का पालन किया जाए। कलेक्टर जेपी पाठक ने उक्त निर्देश का कड़ाई से पालन करते हुए विभागीय कार्यालय संचालन के निर्देश दिए हैं।

READ ALSO-  छत्तीसगढ़ : दूल्हे के अरमानों पर फिर गया पानी, बारात निकलने से पहले ही उठा ले गई पुलिस, जानिए क्या है...पूरा मामला
error: Content is protected !!