Press "Enter" to skip to content

मां की हत्या का आरोपी बेटा गिरफ्तार, आकस्मिक मृत्यु का रुप देने जला दिया था शव, 4 लाख मुआवजा मिलने के लालच में मां की थी हत्या, गला दबाकर हत्या करने के बाद शव को जला दिया था

जांजगीर-चाम्पा. शिवरीनारायण पुलिस ने मां की हत्या के आरोपी बेटे को गिरफ्तार किया है. मामला खोखरी गांव का है. आरोपी बेटे का नाम शिवप्रसाद रोहिदास है, जिसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है. बेटे ने मां की जिस वजह से हत्या की है, वह भी हैरान करने वाला है और पैसे के लालच में एक बेटा ने हत्या जैसी संगीन वारदात को अंजाम दिया है. आरोपी बेटे ने आकस्मिक मृत्यु का रूप देकर 4 लाख मुआवजा पाने की नीयत से अपनी मां की मौत आग से जलकर होना बताया था, लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट ने आरोपी बेटे की साजिश की पोल खोल दी.
शिवरीनारायण टीआई मोतीलाल शर्मा ने बताया कि खोखरी गांव में 25-26 मई की रात में हुई थी घटना हुई थी. 50 साल की महिला गीता बाई की आग से जलकर मौत होने की सूचना उसके बेटे ने थी. मामले में शव का पोस्टमार्टम कराया था और मर्ग कायम किया गया था.
इस बीच मृतका महिला का बेटा शिवप्रसाद, अक्सर पीएम रिपोर्ट लेने थाने आता था. इस बीच अभी 27 जुलाई को पीएम रिपोर्ट मिली और महिला की गला दबाकर हत्या करने, उसके बाद शव को जलाने का खुलासा हुआ.
इस पर पुलिस ने जांच शुरू की और बेटे के पहले दिए बयान से पुलिस को उसी पर शक हुआ. उससे पूछताछ में आरोपी बेटे शिवप्रसाद ने बताया कि आकस्मिक मौत के तहत मिलने वाले 4 लाख मुआवजा पाने के लिए उसने ऐसी वारदात को अंजाम दिया.
फिलहाल, पुलिस ने मां की हत्या के आरोपी बेटे शिवप्रसाद रोहिदास को न्यायिक हिरासत में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.

READ ALSO-  BIG NEWS : जांजगीर. किसानों से अधिक मात्रा में धान लेने पर मसानियाखुर्द और मिस्दा के खरीदी प्रभारी को निलंबित, दोनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश ,