छत्तीसगढ़ जांजगीर-चाम्पा

शहीद दीपक भारद्वाज का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, पार्थिव देह के पहुंचते ही रो पड़ा पूरा गांव, अंतिम यात्रा में शामिल हुए हजारों लोग, शहीद के पिता ने नक्सलियों की कायराना करतूत को लेकर ये कहा… पढ़िए…

Share on-

जांजगीर-चाम्पा. मालखरौदा क्षेत्र के पिहरीद गांव के शहीद एसआई दीपक भारद्वाज का सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. मुखाग्नि उनके पिता राधेलाल भारद्वाज ने दी. शहीद का पार्थिव देह पिहरीद गांव पहुंचा तो पूरा गांव रो पड़ा और शहीद दीपक भारद्वाज की अंतिम यात्रा में हजारों लोग पहुंचे. यहां सांसद गुहाराम अजगले, विधायक रामकुमार यादव, केशव चन्द्रा, बिलासपुर आईजी रतन लाल डांगी, बीजेपी नेता पूर्व आईएएस ओपी चौधरी, कांग्रेस के पूर्व लोकसभा प्रत्याशी रवि भारद्वाज, पूर्व विधायक निर्मल सिन्हा ने श्रद्धांजलि दी.


मीडिया से बात करते शहीद दीपक भारद्वाज के पिता राधेलाल भारद्वाज ने कहा कि नक्सलियों ने कायराना करतूत को अंजाम दिया है. नक्सलियों को लोकतंत्र पर भरोसा रखना चाहिए और बंदूक छोड़कर मुख्यधारा में लौटना चाहिए. बुलेट के बजाय, बैलेट पर नक्सली भरोसा करे.


चन्द्रपुर विधायक रामकुमार यादव ने कहा कि जिला, प्रदेश और देश ने एक सपूत को खोया है. नक्सलियों को सबक सिखाने के लिए ऐसे माटीपुत्र के बलिदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता है.


Share on-

Advertisment

[URIS id=24977]