Press "Enter" to skip to content

इस मामले में तो बिल्कुल धोनी जैसे हैं कप्तान राहुल !, विस्तार से पढ़िए…

वांडरर्स क्रिकेट मैदान पर जो एक बल्लेबाज़ भारतीय टीम के लिए मैदान पर अड़ा हुआ है. उसका नाम है केएल राहुल. राहुल इस मैच में सिर्फ बल्लेबाज़ नहीं बल्कि कप्तान भी हैं. जोहानसबर्ग में खेले जा रहे सीरीज़ के दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय टीम के हालात बहुत अच्छे नहीं हैं. पहले एक घंटे में कप्तान केएल राहुल ने जो काम किया. उसे अगले एक घंटे में मयंक, पुजारा और रहाणे ने खराब कर दिया.

लंच से पहले के आखिरी अपडेट तक भारतीय टीम ने तीन विकेट खोकर महज़ 53 रन बनाए हैं. यानि साउथ अफ्रीकी टीम ने दूसरे टेस्ट की बेहतरीन शुरुआत कर ली है. खैर, अब भी टीम के पास मौका है कि वे वांडरर्स में एक अच्छी पार्टनरशिप कर मैच में वापसी करें.

READ ALSO-  गुजरात की हैट्रिक, सिंगापुर को हराकर भारत महिला एशिया कप हॉकी के SF में... डिटेल में पढ़िए...

मैच में क्या होगा ये तो वक्त के साथ पता चलेगा. लेकिन मैच शुरू होते वक्त क्या हुआ ये आपको अभी बता देते हैं. जैसे ही केएल राहुल दूसरे टेस्ट में टीम के कप्तान बने. क्रिकेट स्टैट्स वाले जानकारों ने ढेर सारे स्टैट्स देने शुरू कर दिए. ऐसा ही एक स्टैट राहुल और धोनी से जुड़ा भी है.

केएल राहुल भारतीय टीम के कप्तान तो बन गए. लेकिन उन्हें फर्स्ट-क्लास क्रिकेट में कप्तानी का बहुत ज़्यादा अनुभव नहीं है. उन्होंने जोहानसबर्ग टेस्ट से पहले सिर्फ एक फर्स्ट-क्लास मैच में कप्तानी की है. ऐसा ही कुछ पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी के साथ भी था. धोनी को भी जब साल 2008 में कानपुर में पहले टेस्ट में कप्तानी मिली थी. उससे पहले उन्हें भी सिर्फ एक फर्स्ट-क्लास मैच की कप्तानी का अनुभव था.

READ ALSO-  Team India, IND vs WI : wi सीरीज के लिए टीम इंडिया का ऐलान, रोहित कप्तान, कोहली भी खेलेंगे, बुमराह को आराम... विस्तार से पढ़िए...

राहुल और धोनी में इतनी ही समानता नहीं है. दोनों ही खिलाड़ियों ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ ही अपना टेस्ट कप्तानी का डेब्यू किया है.
राहुल और धोनी के अलावा भारत के लिए ऐसे भी कप्तान हुए. जिन्होंने कभी भी फर्स्ट-क्लास क्रिकेट में कप्तानी नहीं की और भारत की टेस्ट टीम के कप्तान बन गए. ऐसे ही कप्तान हैं, अजिंक्य रहाणे. रहाणे को जब साल 2017 में पहली बार भारतीय टेस्ट टीम का कप्तान बनाया गया था.

READ ALSO-  महिला बल्लेबाज़ों की ताज़ा टी20I रैंकिंग जारी, शेफाली ने फिर से हासिल किया शीर्ष स्थान

तब उनके पास फर्स्ट-क्लास क्रिकेट में कप्तानी का कोई भी अनुभव नहीं था, वहीं बात भारतीय मौजूदा टेस्ट कप्तान विराट कोहली की करें, तो उन्होंने भी सिर्फ तीन फर्स्ट-क्लास मैचों में कप्तानी करने के बाद ही भारतीय टेस्ट टीम की ज़िम्मेदारी उठा ली थी.