Press "Enter" to skip to content

छत्तीसगढ़ रणजी क्रिकेट टीम के कप्तान हरप्रीत सिंह भाटिया पर FIR, नौकरी पाने के लिए फर्जी मार्कशीट का किया था उपयोग

रायपुरः छत्तीसगढ़ रणजी क्रिकेट टीम के कप्तान हरप्रीत सिंह भाटिया पर विधानसभा थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। हरप्रीत सिंह भाटिया ने नौकरी पाने के लिए फर्जी मार्कशीट का उपयोग किया था। अब भारतीय लेखा परीक्षा कार्यालय ने उनके खिलाफ विधानसभा थाने में मामला दर्ज करवाया है।

 

 

मिली जानकारी के अनुसार हरप्रीत सिंग भाटिया ने वर्ष 2014 में क्रिकेट संवर्ग से लेखा परिक्षक, लेखापाल पद पर भर्ती के लिए आवेदन किया था। आवेदन पत्र के साथ सत्यापित दस्तावेज शैक्षणिक योग्यता मांगी गई थी। फिल्ड ट्रायल के लिए हरप्रीत सिंह भाटिया का भी चयन किया गया था। इसमें हरप्रीत सिंग भाटिया मूल दस्तावेजों के साथ उपस्थित हुए थे। हरप्रीत ने अपना स्वीकृति पत्र भी प्रस्तुत किया था। जिसके बाद कार्यालय के द्वारा सभी चयनित उम्मीदवारों के शैक्षणिक योग्यता प्रमाण पत्र जांच के लिए प्रमाण पत्र जारी करने वाली संस्थाओं को उनकी सत्यता के भेजा गया था। जांच में पता चला कि हरप्रीत सिंह भाटिया ने जो बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की डिग्री दी है, वह फर्जी है। बहरहाल महालेखाकर भवन ने उनके खिलाफ विधानसभा थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज करवाया है।

READ ALSO-  IPL 2022: ये खिलाड़ी बना एक सीजन में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले भारतीय स्पिनर, हरभजन सिंह को पीछे छोड़ा

 

बता दें कि छत्तीसगढ़ क्रिकेट रणजी टीम के पूर्व कप्तान हरप्रीत सिंह भाटिया इंडियन प्रीमियर लीग में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, कोलकाता नाइट राइडर्स और दिल्ली कैपिटल्स की टीम के लिए कई मैच खेले है।

error: Content is protected !!