Press "Enter" to skip to content

3 करोड़ का बिजली बिल देख बढ़ा पिता और बेटी का ब्लड प्रेशर, जानकर हैरान रह जाएंगे ये कारनामा…

ग्वालियर ( मप्र ). विद्युत मंडल की लापरवाही आए दिन देखी जा रही है. एक ओर जहां लोगों को बिजली के बढ़ते दामों की चिंता है तो दूसरी ओर बिलों में हो रही लापरवाहीे से परेशान है. ग्वालियर शहर में विद्धुत विभाग द्वारा बड़ी लापरवाही सामने आई है। ग्वालियर के एक मकान का बिजली बिल 3400 करोड़ आ गया,मैसेज में जब परिजनों ने देखा तो उनके पैरों जमीन खिसक गई, वहीं और तो और यह देख मकान मालिक और बेटी का ब्लड प्रेशर तक बड़ गया, जिनको अस्पताल में भर्ती कराया गया. यह लापरवाही देख परिजन ने विद्युत मंडल में जाकर शिकायत दर्ज करायी, जिसके बाद जांच में पाया गया कि बिजली विभाग कर्मचारी ने मीटर की रीडिंग की जगह सर्विस नंबर भर दिया है जिसके बाद बिल को सुधारा गया और घटाकर बिल में बिजली की राशि 1300 की गई। आप सभी का बता दें की प्रदेश के उर्जामंत्री प्रद्युम्म सिंह तोमर भी ग्वालियर शहर से ही आते है। और उनके शहर में ऊर्जामंत्री रहने के बावजूद ऐसी लापरवाही सामने आए तो अन्य जिलों और संभागों में तो आए दिन विद्युत विभाग की लापरवाही देखनी होती है. जिसका खामयाजा आम जनता को भोगना पड़ता है.

READ ALSO-  यहां के सीएम ने दिया इस्तीफा, राज्यपाल को सौंपा त्यागपत्र...पढ़िए

ग्वालियर के सिटी सेंटर शिव विहार कॉलोनी के दो मंजला मकान में एक छोटा सा परिवार रहता हैं। घर का मीटर उनकी बेटी के नाम से लगा हुआ है, जिसकी शादी हो चुकी है। अचानक ही बेटी के मोबाईल पर एक विद्युत विभाग से मैसेज आता है जिसमें उनके मकान का एक माह का बिल 3400 करोड़ आया. इतना ज्यादा बिजली बिल देखने के बाद बेटी और पिता दोनों का ब्लडप्रेशर हाई हो गया। जिनकों तुरंत अस्पताल में भर्ती किया गया. इस बिल की शिकायत जब बिजली विभाग में की तो अधिकारियों ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए बिल का सुधारा और परिवार से माफी मांगनी पड़ी. इस घटना के बाद ऊर्जामंत्री पीएस तोमर दो कर्मचारी को बर्खास्त कर दिया, वहीं एक अधिकारी को नोटिस भेजकर जबाव मांगा है.

error: Content is protected !!