Press "Enter" to skip to content

कर्ज से लदे किसान ने जहर पीकर की खुदकुशी, परिजन का बयान, मूल से ज्यादा ब्याज अदा कर चुका था किसान, फिर भी कर्ज देने वाले करते थे परेशान, तफ्तीश में जुटी पुलिस

जांजगीर-चांपा. पामगढ़ थाना क्षेत्र के मदनपुर गांव में कर्ज के बोझ से दबे किसान ने जहर पीकर आत्महत्या कर ली. पुलिस और परिजन के बयान के मुताबिक, रमेश कश्यप खेती किसानी का काम करता था. साथ ही किसान ने तीन ट्रैक्टर भी फाइनेंस कराया था. इस बीच लोगों से कुछ कर्ज भी किसान ने ले रखा था, जिसका मूल से ज्यादा वह ब्याज अदा कर चुका था, मगर फिर भी उन्हें राहत नहीं मिली थी.

अभी भी कर्जदार लगातार किसान के घर पर दस्तक देते थे, जिससे मानसिक रूप से लगातार पढ़ते थे. उन्होंने इस समस्या का हल आत्महत्या के रास्ते चुनाव इस मामले में परिजन साहूकारों से परेशान होने की बात कह रहे हैं, वहीं पुलिस ने फिलहाल मर्ग कायम कर लिया है और परिजन के बयान के आधार पर जांच की दिशा में आगे बढ़ने की बात कही है.
[su_heading size=”16″]इन्हें भी देखें…[/su_heading]
[su_youtube url=”https://youtu.be/d1A2R1NRWBM” title=”इन्हें भी देखें…”]
मृतक रमेश कश्यप के बेटा ने बताया कि कर्ज की अदायगी के लिए किसान ने अपना 8 एकड़ खेत भी बेच डाला, मगर कर्ज से मुक्ति नहीं मिली. लगातार सूदखोरों के द्वारा परेशान करने की बात मृतक का बेटा बता रहा है. फिलहाल, मामले में पुलिस जांच की बात कह रही है.

READ ALSO-  Janjgir : छत्तीसगढ़ योग शिक्षक संघ के द्वारा सांसद गुहाराम अजगल्ले को सौंपा गया ज्ञापन, योग शिक्षकों के रोजगार हेतु 11 सूत्रीय मांग को लेकर सांसद से मिले संघ के पदाधिकारी
error: Content is protected !!