Press "Enter" to skip to content

जिपं सीईओ ने चारागाह में रखिया, करेला का लगाया बीज, ग्रामीणों का बढ़ाया मनोबल, कापन, खोंड, किरारी और झलमला गोठान चारागाह का किया निरीक्षण, महिला स्व सहायता समूह को किया उन्नत किस्म के बीज का वितरण

जांजगीर-चांपा. जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी तीर्थराज अग्रवाल ने शुक्रवार को अकलतरा विकासखण्ड की ग्राम पंचायतों में पहुंचकर चारागाह में रखिया, करेला आदि बीज लगाकर बुआई की और समूह एवं ग्रामीणों का मनोबल बढ़ाया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कलेक्टर यशवंत कुमार के मार्ग निर्देशन में गौठान एवं चारागाह का नियमित रूप से निरीक्षण किया जा रहा है। इसी तारतम्य में कापन, खोंड, किरारी और झलमला ग्राम पंचायतों में गौठान एवं चारागाह का निरीक्षण किया।

जिपं सीईओ सबसे पहले कापन के गौठान का निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने वहां पर उपस्थित विभागीय अमले से कहा कि राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना एनजीजीबी नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी के तहत गौठान, चारागाह का निर्माण किया जा रहा है। जिपं सीईओ ने निरीक्षण के दौरान कहा कि कलेक्टर श्री यशवंत कुमार द्वारा भी गौठान एवं चारागाह की नियमित रूप से मानीटरिंग की जा रही है। इसलिए जरूरी है कि जो भी कार्य दिए जाएं उन्हें समय सीमा में पूर्ण किया जाए। जिपं सीईओ ने तकनीकी अमले से गौठान एवं चारागाह की नियमित रूप से मॉनीटरिंग करने और प्रगतिरत कार्यों को जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने गौठान में पशुओं के लिए चारा व्यवस्था करने, चारागाह में बुआई के पहले अच्छे से जुताई करने के भी निर्देश दिए।

इस दौरान उन्होंने कापन के गौठान में उपस्थित स्व सहायता समूह को बीज किट का वितरण किया और कहा कि बीज लगाने के दौरान अच्छे से जुताई एवं बुआई करें। इस दौरान जनपद पंचायत अकलतरा मुख्य कार्यपालन अधिकारी सत्यव्रत तिवारी, मनरेगा कार्यक्रम अधिकारी एलपी राठौर, सहित विभागीय अधिकारी, सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक मौजूद रहे।
रखिया और करेला का बीज रोपा
जिपं सीईओ श्री अग्रवाल ने ग्राम पंचायत किरारी में बनाए गए चारागाह में रखिया एवं करेला का बीज रोपा। इस दौरान उन्होंने कहा कि बीज लगाने के साथ ही उसकी देखभाल की जिम्मेदारी समूह की बढ़ जाती है। इसके साथ ही उन्होंने किरारी एवं कापन में ग्रामीणों के साथ मिलकर नीम एवं कदम का पौधा भी लगाया और पौधों की देखभाल की जिम्मेदारी भी उन्होंने ग्रामीणों को ही सौंपी।
समूह का कराएंगे लिंकेज
गौठान, चारागाह में कार्य करने वाले स्व सहायता समूह की महिलाओं को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, से जोड़कर उन्हें मजबूत बनाया जाएगा, और उन्हें बैंक से लिंकेज कराकर ऋण दिलाने की प्रक्रिया की जाएगी। कापन में जय मां मडवारानी एवं प्रगति समूह को उन्होंने बीज किट का वितरण करते हुए प्रोत्साहित किया। उन्होंने कहा कि समूह गौठान, चारागाह में कार्य करते हुए बेहतर रोजगार प्राप्त कर सकते है।
[su_heading]इस खबर को भी देखिए…[/su_heading]
[su_youtube url=”https://youtu.be/5hxQJBNlumQ”]

READ ALSO-  जांजगीर-चाम्पा जिले में मास्क नहीं पहनने पर 1189 प्रकरण दर्ज, 124240 रूपए का लगा जुर्माना, इन जगहों में हुई इतनी कार्रवाई... जानिए...