देश-विदेश

एनएमडीसी ने जीते दो प्रतिष्ठित सीएसआर अवार्ड, सीएसआर पहलों, स्‍थानीय समुदाय के लिए प्रतिबद्धता और सुस्थिरता को मिली पहचान

Share on-

हैदराबाद. देश के सबसे बड़े लौह अयस्‍क उत्‍पादक एवं केंद्र सरकार के सार्वजनिक क्षेत्र के नवरत्‍न उपक्रम एनएमडीसी को मुंबई में 17 एवं 18 फरवरी, 2021 को आयोजित विश्‍व सीएसआर दिवस एवं कांग्रेस के दौरान संगठन वर्ग में सर्वश्रेष्‍ठ सीएसआर पहलों (सामाजिक विकास) तथा सर्वोत्‍तम सीएसआर पद्धतियों के लिए संगठनात्‍मक श्रेणी में “बिजनेस लीडर ऑफ द इयर पीएसयू अवार्ड” से सम्‍मानित किया गया।

वर्ड लीडरशिप कांग्रेस तथा वर्ड सीएसआर कांग्रेस सामाजिक प्रभावकारिता में वृद्धि के लिए नेतृत्‍व करने वाले नेताओं तथा संगठनों को उनके प्रयासों तथा प्रति‍बद्धताओं के लिए बिजनेस लीडर के रूप में मान्‍यता प्रदान करते हैं। इस अवार्ड के 29वें संस्‍करण में 133 से अधिक देशों के वैश्विक विशिष्‍टजनों, दूरदर्शी लोगों की भारी प्रतिभागिता रही। सीएसआर पहलों (सामाजिक विकास) के लिए संगठन वर्ग में पीएसयू श्रेणी के अंतर्गत वर्ष के बिजनेस लीडर का अवार्ड सुमित देब, अध्‍यक्ष-सह-प्रबंध निदेशक, एनएमडीसी ने प्राप्‍त किया।

ये भी पढ़ें-  चंद्रयान-3 के 2022 में लॉन्च होने की संभावना है: इसरो प्रमुख के. सिवन

यह अवार्ड भारत में संगठनों द्वारा सुस्थिर तथा न्‍याय संगत समाज के प्रति उनकी भूमिका को पहचान प्रदान करते हैं। अवार्ड ऐसी कंपनियों की सराहना करते हैं जिन्‍होंने सीएसआर तथा सुस्थिरता संबंधी पहलों के लिए सर्वोत्‍तम व्‍यावसायिक पद्धतियां अपनाई हैं तथा इन्‍हें अपने संगठनात्‍मक लोकाचार का एक प्रमुख घटक बनाया है। इससे पर्यावरण तथा जनता पर स्‍पष्‍ट लाभ तथा प्रभाव पड़ता है।

एनएमडीसी सीएसआर – नैगम सामाजिक दायित्‍व के क्षेत्र में अग्रणी रहा है तथा अपनी विस्‍तृत सीएसआर गतिविधियों के माध्‍यम से सामाजिक सुधार को प्रभावित करने में निरंतर अग्रणी रहा है। एक जिम्‍मेवार कार्पोरेट नागरिक होने के नाते यह समाज के प्रति अपने दायित्‍वों को पूर्ण करने में हमेशा अग्रणी रहा है। इसके लाभार्थी अधिकांशत: एनएमडीसी के प्रचालनों के समीपवर्ती क्षेत्रों में निवास कर रहे दूरस्‍थ समुदाय के वंचित लोग होते हैं। एनएमडीसी ने शिक्षा तथा किफायती चिकित्‍सा सुविधाएं प्रदान करने पर ध्‍यान केंद्रित किया है। एनएमडीसी जनता से जुड़े रहने के प्रति संकल्‍पबद्ध है तथा उन्‍हें ऐसी सुविधाएं देने के लिए प्रतिबद्ध है जिससे कि उनका जीवन बेहतर बन सके। इस वर्ष जनवरी में एनएमडीसी ने छत्‍तीसगढ़ के बस्‍तर क्षेत्र में अपनी सीएसआर गतिविधियों के माध्‍यम से शिक्षा सहयोग योजना के लिए मेटल तथा माइनिंग क्षेत्र में प्‍लेटिनम अवार्ड जीता था।

ये भी पढ़ें-  NEET PG 2021: नीट पीजी परीक्षा के लिए आज से शुरू आवेदन प्रक्रिया, जानिए कब होगा एग्जाम

सुमित देब, सीएमडी, एनएमडीसी ने इस अवसर पर कहा कि “एनएमडीसी सदैव सुस्थिर विकास को गति देने तथा कार्पोरेट सेक्‍टर के अंदर चल रही सामाजिक दायित्‍व की प्रक्रियाओं को बढ़ावा देने के लिए सीएसआर संबंधी कार्य करता रहा है। एनएमडीसी का लक्ष्‍य अपनी परियोजनाओं के समीपवर्ती क्षेत्रों में साक्षरता को बढ़ावा देना, बेहतर चिकित्‍सा सुविधाएं प्रदान करना तथा आधारभूत सुविधाओं का विकास करना है। हमें प्रसन्‍नता है कि हमारे प्रयासों से स्‍थानीय समुदाय को सामाजिक तथा आर्थिक प्रगति में सहायता मिली है जिससे हमें प्रत्‍येक दिन बेहतर कार्य करने की प्रेरणा मिलती है।”


Share on-
Tags

Advertisment

error: Content is protected !!