Press "Enter" to skip to content

बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखते थे ये मशहूर क्रिकेटर, एक के पिता करते थे कोयले की फैक्ट्री में काम… इन 5 क्रिकेट खिलाड़ियों के बारे में जानिए…

भारत में सबसे ज्यादा क्रिकेट को पसंद किया जाता है . हर किसी का अपना फेवरेट खिलाडी है. आज जो खिलाडी दुनिया भर में इतने फेमस है वो इस मुकाम तक ऐसे ही नही पहुंचे. यंहा तक पहुँचने के लिए उन्हें जीवन में बहुत संघर्ष करना पड़ा है. एक समय ऐसा भी था जब इनके पास इतने पैसे भी नही थे कि ये एक बॉल भी खरीद ले, लेकिन इसी बैट बॉल की वजह से ये लोग आज करोड़ो के मालिक है.

रवींद्र जडेजा
क्रिकटर सर जडेजा को आज कौन नहीं जानता वह एक फेमस क्रिकटर है। लेकिन शायद ही कई लोग ये जानते होंगे की एक समय था जब जडेजा के पास इसी क्रिकेट को खेलने के लिए बल्ला नहीं हुआ करता था। बता दे रवींद्र जडेजा का बचपन बेहद गरीबी में बीता था।उनके पिता एक गार्ड थे तो माता नर्स थी। वे सरकारी क्वार्टर में रहते थे, लेकिन अपनी कड़ी मेहनत और दृढ़ संकल्प के कारण, जडेजा भारत के सबसे अच्छे ऑलराउंडरों में से एक बनें और अब हर कोई उनकी संपत्ति, घर और लाइफस्टाइल के बारे में जानता है।

READ ALSO-  ICC woman T20 rankings : महिला टी20 रैंकिंग में शेफाली वर्मा पहले पायदान में पहुंची, स्मृति मंधाना को एक स्थान का नुकसान... विस्तार से पढ़िए...

महेंद्र सिंह धोनी
धोनी की कामयाबी और मेहनत से तो बच्चा-बच्चा वाकिफ है। इनके जीवन पर आधारित फिल्म : द अनटोल्ड स्टोरी’ के जरिए दुनिया को अपना सफर दिखाया है और ये फिल्म परदे पर सुपरहिट हुई थी। पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की लाइफ भी बेहद उतार चढ़ाव वाली रही है। उन्होंने बेहद स्ट्रगल कर अपनी ज़िन्दगी को आज इस मुकाम तक लाये है। उनके पिता एक  पिच क्यूरेटर थे, और माता ग्रहणी थी।

READ ALSO-  भारत के इस स्टार हॉकी खिलाड़ी का हुआ निधन, ओलंपिक में दिलाया था टीम को गोल्ड मेडल...

भुवनेश्वर कुमार
क्रिकेट जगह के मशहूर क्रिकेटर में एक नाम और है जिसे भुवी नाम से सब जानते है। उत्तर प्रदेश के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने अपने एक इंटरव्यू में यह खुलासा किया था कि उनके पास क्रिकेट खेलने के लिए उचित जूते तक नहीं थे। हालाँकि, उनके पिता और उनकी बहन हमेशा उनका समर्थन करते रहे और अब वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पेसरों में से एक हैं।

उमेश यादव
उमेश यादव भारत के तेज गेंदबाजों में से एक है। अपोजिट टीम को अपनी बोलिंग से इन्होने खूब चकमा दे रखा है। बता दे उमेश यादव का बचपन भी परेशानी भरा रहा है ,उमेश के पिता एक कोयला फैक्ट्री में काम करते थे, जिन्होंने अपने परिवार को उचित भोजन उपलब्ध कराने के लिए संघर्ष किया। फिर भी, उनके बेटे ने क्रिकेट के मैदान पर देश का प्रतिनिधित्व करने के अपने सपने को पूरा किया।

READ ALSO-  कभी Virat Kohli का फेवरेट था ये बल्लेबाज, Rohit Sharma के आते ही पूरी तरह तबाह हुआ बल्लेबाज का कॅरियर...

हरभजन सिंह
भले ही आज हरभजन सिंह को सभी जानते हो लेकिन एक समय था जब इनके परिवार के पास उन्हें क्रिकेटर बनाने तक के पैसे नहीं थी। एक बार वीरेंद्र सहवाग ने खुलासा किया था कि परिवार की आर्थिक स्थिति के कारण हरभजन सिंह ने ट्रक ड्राइवर बनने की सोची थी। लेकिन, आखिरकार उनकी क़िस्मत और मेहनत रंग लाई है।