Press "Enter" to skip to content

बदल गया ATM से कैश न‍िकालने का तरीका, आपके फायदे के ल‍िए RBI ने लागू किया नया नियम

डिजिटल ट्रांजेक्‍शन के दौर में एटीएम से कैश न‍िकालने वालों की संख्‍या में कमी आई है. लेक‍िन यद‍ि आप अक्‍सर एटीएम से कैश न‍िकालते हैं तो यह खबर आपके बेहद काम की है. दरअसल, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एटीएम से कार्डलेस न‍िकासी के ल‍िए बैंकों और एटीएम ऑपरेटर्स को आदेश द‍िए हैं.

पूरी तरह बदल जाएगा कैश न‍िकासी का तरीका
आरबीआई के इस न‍ियम के लागू होने के बाद एटीएम से कैश न‍िकालने का तरीका पूरी तरह बदल जाएगा. इसका फायदा यह होगा क‍ि कार्ड की क्‍लोन‍िंग, कार्ड स्किमिंग और दूसरे बैंक फ्रॉड कम हो जाएंगे.

READ ALSO-  यहां के सरकार ने जारी की चेतावनी, बढ़ सकते है गैस के दाम, आर्थिक मामलों के मंत्री ने कहा – खतरा पैदा हो गया…वजह जानिए

कार्डलेस ट्रांजेक्‍यान में कैश न‍िकालने के ल‍िए आपको डेब‍िट या क्रेड‍िट कार्ड की जरूरत नहीं होगी. इसमें आप यूपीआई पेमेंट एप जैसे पेटीएम, गूगल पे, एमेजॉन पे या फोन पे जैसे एप के जर‍िये ही एटीएम से पैसे न‍िकाल सकेंगे.

NPCI को UPI इंटिग्रेशन का निर्देश

आरबीआई के न‍िर्देश के बाद अब सभी बैंक और एटीएम ऑपरेटर को कार्डलेस कैश न‍िकासी का इंतजार करना होगा.

र‍िजर्व बैंक की तरफ से लागू नियम के तहत कोई भी बैंक किसी भी बैंक के खाताधारक को यह सुविधा दे सकता है. इसके ल‍िए NPCI को UPI इंटिग्रेशन का निर्देश आया है.

READ ALSO-  IAS Success Story: अगर पढ़ाई में एवरेज हैं, तब भी सिविल सेवा का सपना कर सकते हैं पूरा, जानें आईएएस Junaid Ahmad की कहानी  

चार्ज में कोई बदलाव नहीं

आपको बता दें ATM कार्ड पर फ‍िलहाल जो चार्ज लगते हैं, बदलाव के बाद भी वहीं चार्ज रहेंगे. इनमें क‍िसी तरह का बदलाव नहीं क‍िया जाएगा. इसके अलावा कैशलेस ट्रांजेक्‍शन से रकम निकासी (Cash Withdraw Rules) के ल‍िए ल‍िम‍िट भी पहले वाली ही रहेगी.

कैसे काम करती है यह सुव‍िधा

कार्डलेस ट्रांजेक्‍शन की सुव‍िधा अभी कुछ ही बैंकों के एटीएम पर म‍िल रही है. नए स‍िस्‍टम के तहत ग्राहक को एटीएम में डेब‍िट कार्ड डालने की जरूरत नहीं रहेगी. इसके ल‍िए ग्राहक को एटीएम पर क्‍यूआर कोड स्‍कैन करना होगा. उसके बाद 6 ड‍िज‍िट का यूपीआई एंटर करने पर पैसे न‍िकल आएंगे.

READ ALSO-  कौन है सफेद दाढ़ी, सिर पर पगड़ी और रफ लुक के साथ नजर आ रहा ये शख्स? लोग अमिताभ बच्चन समझकर हो रहे कंफ्यूज

क्‍या है RBI का मकसद

कैशलेस कैश व‍िदड्रॉल स‍िस्‍टम को लागू करने के पीछे आरबीआई का मकसद लगातार बढ़ रही फ्रॉड की घटनाओं को कम करना है. इससे कार्ड की क्‍लोन‍िंग, कार्ड स्किमिंग और दूसरे बैंक फ्रॉड कम होने की उम्‍मीद की जा रही है. साथ ही आपको पैसे न‍िकालने के ल‍िए कार्ड की जरूरत ही नहीं रहेगी.

error: Content is protected !!