Press "Enter" to skip to content

मैं Gay हूं….पूर्व क्रिकेटर ने खुद कही ये बात, मीडिया के सामने किया खुलासा, दुनिया के सबसे तेज गेंदबाजों में से थे एक… पढ़िए

नई दिल्ली. क्रिकेट आज के समय का सबसे पॉपुलर खेल है, इस खेल के दुनियाभर में लाखों दिवाने हैं। लेकिन अगर कोई खिलाड़ी देश के लिए जी जान लगाकर खेला और अचानक एक दिन मीडिया के सामने आकर कहे कि वह गे है तो जायज सी बात है कि फैन्स को झटका लगेगा।

ऐसा ही हुआ है एक दिग्गज क्रिकेटर ने हाल ही में मीडिया के सामने इस बात का खुलासा किया है कि वो गे है। बता दें कि इस खिलाड़ी को दुनिया के सबसे तेज गेंदबाज के में से एक के तौर पर जाना जाता था।

उन्होंने 1994 और 1997 के बीच ब्लैक कैप्स के लिए पांच टेस्ट और 11 वनडे अंतरराष्ट्रीय खेले। अपने समग्र टेस्ट करियर में, उन्होंने पांच मैचों में 17 विकेट लिए और वनडे मैचों में 11 विकेट लिए।

READ ALSO-  इस दिग्गज खिलाड़ी ने दिया संन्यास लेने का संकेत, सामने आई ये बड़ी वजह...पढ़िए

मिली जानकारी के अनुसार हीथ डेवीस ने ’स्क्रैच्डः आओटेरोआज़ लॉस्ट स्पोर्टिंग लीजेंड्स’ नामक डॉक्यूमेंट्री सीरीज के एक एपिसोड में पहली बार सार्वजनिक तौर पर अपनी सेक्शुअलिटी का खुलासा किया है। उन्होंने द स्पिन ऑफ को बताया कि 1994 में इंग्लैंड के अपने पहले दौरे के दौरान उन्होंने खुद के बारे में जानना शुरू किया, हालांकि कम उम्र में ही उन्होंने अपनी मां को बताया था कि वह समलैंगिक हैं।

उन्होंने कहा, “इंग्लैंड का पहला दौरा (1994 में), मैं खुद को जानना शुरू कर रहा था, मैं कुछ बार और चीजों को निजी तौर पर देखने के लिए जा रहा था कि जीवन क्या है… ठीक है, आप दुनिया के दूसरी तरफ हैं, कोई भी तुम्हें यहां नहीं जानता है। मैंने अपने जीवन के उस हिस्से को वहीं छोड़ दिया। बहुत कुछ था, बस अपने निजी जीवन को अलग रखते हुए।“

READ ALSO-  Janjgir Accident : तेज रफ्तार बोलेरो ने वृद्ध महिला को मारी ठोकर, बिलासपुर रेफर, वाहन चालक के खिलाफ केस दर्ज

क्रिकेटर ने वेलिंगटन से ऑकलैंड जाने तक मैदान पर और बाहर दो अलग-अलग जीवन जीने के “अकेलेपन“ के अनुभव के बारे में भी खुलासा किया। डेविस ने कहा, “अकेलापन था।

सेक्स करने के लिए सौना और व्यस्त जगहों पर जाना क्योंकि आप चाहते थे कि कोई आपको पहचाने और उस तरह की चीजें। मेरे पास सिस्टम और लोग थे जहां मैं इन चीजों के बारे में बात कर सकता था लेकिन मुझे सहज महसूस नहीं हुआ।“

READ ALSO-  बिलासपुर सांसद बने छग भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष, राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दी बड़ी जिम्मेदारी...

उन्होंने ये भी खुलासा किया कि अपने पहले समलैंगिक संबंध के दौरान वह 27 साल के थे और वेलिंगटन के लिए खेल रहे थे लेकिन वो दोनों सार्वजनिक रूप में सामने आने के लिए असहज थे।

उन्होंने कहा कि जब ऑकलैंड से एक कॉन्ट्रैक्ट का प्रस्ताव आया, तो उन्होंने शहर से दूर जाने का अवसर देखा और वहां शिफ्ट होने के बाद, उन्होंने अपनी नई टीम के मेनेजर को बताया कि वह समलैंगिक हैं, जो बात उनकी टीम के सदस्यों को भी बताई गई और उन्हें “यह इतना बड़ा मुद्दा नहीं लगता था“।

error: Content is protected !!