Press "Enter" to skip to content

Janjgir Big News : नाबालिग से दुष्कर्म, गर्भपात भी कराया, 3 माह से फरार है आरोपी अभिषेक अग्रवाल, पुलिस नहीं कर सकी है गिरफ्तारी, हाईप्रोफाइल है यह मामला

जांजगीर-चाम्पा. जांजगीर में दुष्कर्म के हाईप्रोफाइल मामले में सिटी कोतवाली पुलिस आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल की 3 माह बाद भी गिरफ्तारी नहीं कर सकी है. युवक ने नाबालिग लड़की का गर्भपात कराया था और उसके चाचा मोहन अग्रवाल ने छेड़छाड़ की थी. आरोपी मोहन अग्रवाल को अग्रिम जमानत मिल गई है, वहीं आरोपी अभिषेक अग्रवाल 3 माह से फरार है.



पुलिस उसे पकड़ने में असफल साबित हो रही है. ऐसे में पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठने लगे हैं कि हाईप्रोफाइल मामले में पुलिस के लंबे हाथ छोटे क्यों पड़ रहे हैं ? केस दर्ज होने के बाद पीड़िता और उसके परिवार को धमकाया भी जा रहा है और युवक के परिजन के द्वारा परेशान किया जा रहा है. केस वापस लेने धमकी दी जा रही है और ऐसा नहीं करने पर पीड़िता, उसके परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी जा रही है.

READ ALSO-  Sakti Arrest : 2 लीटर महुआ शराब के साथ आरोपी शख्स गिरफ्तार, आबकारी एक्ट के तहत कार्रवाई

मामले में एसपी विजय अग्रवाल का कहना है कि आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल को पकड़ने कई जगह पुलिस टीम ने दबिश दी है, लेकिन आरोपी युवक का पता नहीं चल सका है. आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल पर इनाम भी घोषित किया गया है और बिलासपुर आईजी को इनाम की राशि बढ़ाने प्रतिवेदन भी भेजा गया है. साथ ही, सम्पत्ति की कुर्की के लिए जानकारी जुटाई जा रही है.

पीड़िता ने बताया है कि जब वह 17 साल की थी तो राज स्टील के संचालक रमेश अग्रवाल के बेटे अभिषेक अग्रवाल ने उससे दुष्कर्म किया और उसके अश्लील फोटो, वीडियो बना लिया था. इसके बाद, उसे ब्लेकमेल करके बार-बार दो-ढाई से दुष्कर्म करता रहा. इस बीच वह प्रेग्नेंट हो गई थी तो जबरन दवा खिलाकर उसका गर्भपात करा दिया था. जब युवक अभिषेक अग्रवाल के परिवार के लोगों को पीड़िता ने बताया तो युवक के चाचा मोहन अग्रवाल ने उससे छेड़छाड़ की और दुर्व्यवहार किया था. घर में बताने पर युवक अभिषेक अग्रवाल ने अश्लील फोटो, वीडियो वायरल करने और उसके परिवार वालों को बदनाम करने की धमकी दी थी.

READ ALSO-  JanjgirChampa Accident : अज्ञात वाहन ने पैदल जा रहे शख्स को कुचला, रायगढ़ जिले का रहने वाला था मृतक शख्स, पुलिस जांच में जुटी

इस बीच पीड़िता अचानक घर से गायब हो गई थी और अकेली रायपुर पहुंच गई थी. वहां से जब परिजन उसे लेकर आए तो युवक अभिषेक अग्रवाल की करतूत की पोल खुली थी. फिर पीड़िता ने परिजन के साथ पहुंचकर सिटी कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस ने आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, पॉक्सो एक्ट के तहत जुर्म दर्ज किया था, वहीं उसके चाचा मोहन अग्रवाल के खिलाफ धारा 354 के तहत जुर्म दर्ज किया था. मामले में आरोपी चाचा मोहन अग्रवाल को अग्रिम जमानत मिल गई है, लेकिन आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल फरार है और एफआईआर के 3 माह बाद भी आरोपी युवक को नहीं पकड़ सकी है.

READ ALSO-  JanjgirChampa Action : जिले के 14 निजी उर्वरक विक्रेताओं और 8 सहकारी समितियों को कारण बताओ नोटिस जारी

इस हाईप्रोफाइल रेप केस में आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल को पकड़ने पुलिस के लंबे हाथ छोटे पड़ रहे हैं. पुलिस का दावा है कि आरोपी युवक की गिरफ्तारी करने लगातार प्रयास किया जा रहा हा, लेकिन जिस तरह यह हाईप्रोफाइल मामला है और आरोपी युवक के परिजन रसूखदार हैं, इसके बाद आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो रही है.

3 माह से पीड़िता और उसके परिजन पुलिस के चक्कर काट रही है और आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल के परिजन, पीड़िता व परिवार के लोगों को धमका रहे हैं. केस को वापस लेने लगातार परेशान किया जा रहा है. इन सभी बातों से पीड़ित परिवार ने पुलिस को अवगत कराया है, लेकिन पुलिस के हाथ खाली है और आरोपी युवक अभिषेक अग्रवाल फरार है.

Mission News Theme by Compete Themes.
error: Content is protected !!