जांजगीर-चाम्पा

नगर पंचायत खरौद को तहसील का दर्जा देने की मांग ने जोर पकड़ा, प्रतिनिधि मंडल ने विस अध्यक्ष डॉ. चरणदास महन्त से भेंटकर सौंपा ज्ञापन, सीएम और राजस्व मंत्री से भी करेंगे मुलाकात

Follow Us on-
Share on-

जांजगीर-चाम्पा. नगर पंचायत खरौद को तहसील का दर्जा देने की मांग ने जोर पकड़ लिया है. नगर पंचायत की सामान्य बैठक में संकल्प पारित होने के बाद स्थानीय लोगों ने खरौद को तहसील का दर्जा देने की मांग को लेकर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महन्त से मुलाकात की. इस पर डॉ. महन्त ने उचित पहल करने की बात कही है. स्थानीय लोगों द्वारा रायपुर जाकर मुख्यमंत्री और राजस्व मंत्री से भी भेंट कर खरौद को तहसील का दर्जा देने की मांग संम्बंधी ज्ञापन सौंपने की बात कही गई है.

दरअसल, नगर पंचायत खरौद को तालाबों की नगरी कही जाती है और ऐतिहासिक नगरी की पहचान छग की काशी के रूप में है. खरौद, शिक्षा का भी केंद्र है. 1983 से नगर पंचायत खरौद, अभी पामगढ़ तहसील के अंतर्गत है, पामगढ़ तहसील में 81 गांव है. खरौद की जनसंख्या 15 हजार से अधिक है. स्थानीय लोगों की मांग है कि नगर पंचायत खरौद को तहसील दर्जा देने आसपास के गांवों को शामिल किया जा सकता है. इससे अधिक दूरी तय कर पामगढ़ नहीं जाना पड़ेगा और खरौद के साथ ही आसपास के गांवों के लोगों के समय की बचत होगी. साथ ही, आर्थिक बचत भी होगी.

ये भी पढ़ें-  हेल्पर, आया और अटेंडेंट के अस्थाई पदों पर भर्ती के लिए चयन सूची जारी

जांजगीर में विस अध्यक्ष डॉ. महन्त से महामाया अध्यात्म समिति के शंकरलाल आदित्य, प्रमोद सोनी, हेमलाल यादव, अरविंद तिवारी और शिवरात्रि यादव ने खरौद को तहसील का दर्जा देने की मांग करते ज्ञापन सौंपा.


Share on-

Advertisment

error: Content is protected !!