जांजगीर-चाम्पा

खो-खो स्पर्धा में शामिल हुए विधायक रामकुमार यादव, खिलाड़ियों का बढ़ाया उत्साह, 6 जिलों के साथ ही 2 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी भी हुए शामिल, यहां की टीम रही विजेता…

Follow Us on-
Share on-

जांजगीर-चाम्पा. मालखरौदा में खो-खो स्पर्धा आयोजित की गई. स्पर्धा का समापन और पुरस्कार वितरण चन्द्रपुर विधायक रामकुमार यादव ने किया. स्पर्धा में 6 जिलों जांजगीर-चाम्पा, महासमुंद, बलौदाबाजार, दुर्ग, बालोद, कांकेर की 19 टीम शामिल हुई. यहां खो-खो का फाइनल मैच दुर्ग जिले की उरई और जांजगीर-चाम्पा जिले की मालखरौदा टीम के बीच हुआ, जिसमें उरई ( दुर्ग ) की टीम ने जीत हासिल की.

तीसरे स्थान पर कांकेर की टीम रही. इन टीमों को नगद राशि, शील्ड और स्मृति चिन्ह से सम्मानित किया गया. इस खो-खो स्पर्धा में 2 अंतराष्ट्रीय खिलाड़ी भी शामिल हुए. सबसे पुराने इस खेल को देखने लोग भी बड़ी संख्या में पहुंचे थे और सभी ने खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाया.

ये भी पढ़ें-  सरपंच संघ मालखरौदा का प्रथम सम्मेलन आयोजित, कार्यकारिणी का हुआ विस्तार... इन सरपंचों को मिली जिम्मेदारी... पढ़िए...

इस मौके पर चन्द्रपुर विधायक रामकुमार यादव ने कहा कि खो-खो सबसे पुराना खेल है और यह ताकत के साथ ही बुद्धि का खेल है. ग्रामीण क्षेत्र में खो-खो खेल लोकप्रिय था. समय के साथ इस खेल का आयोजन नहीं हो रहा था, जबकि जिले और छग में खो-खो खेल में प्रतिभा की कमी नहीं है. स्पर्धा में खो-खो के 2 अंतराष्ट्रीय खिलाड़ी शामिल होने पहुंचे, यह भी गौरव की बात रही.

विधायक ने कहा कि खिलाड़ियों ने बेहतर खेल का प्रदर्शन किया. खिलाड़ी भावना से खेल होने से मालखरौदा का यह आयोजन श्रेष्ठ रहा, जहां खिलाड़ियों और आयोजकों ने खो-खो खेल को आगे बढ़ाने का प्रयास किया, यह सराहनीय है.

ये भी पढ़ें-  नाबालिग लड़की को धमकी देकर अश्लील वीडियो लेने वाला आरोपी युवक गिरफ्तार, तफ़्तीश में जुटी पुलिस

उन्होंने खिलाड़ियों से कहा कि वे लगातार प्रयास करें, अच्छा खेल खेलें. छग की कांग्रेस सरकार और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पुराने खेल और छग की संस्कृति को आगे बढ़ाने में लगे हैं और खिलाड़ियों को हर तरह से बेहतर खेल माहौल देने की कोशिश कर रहे हैं. सरकार योजना बनाकर काम कर रही है. इससे छग में खेल और खिलाड़ी को अग्रसर होने का मौका मिल रहा है.

दूसरी ओर, विधायक ने यहां खेल-खिलाड़ी जिंदाबाद के नारे लगवाए तो खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ गया.

इस दौरान जिला पंचायत की सदस्य साक्षी युगल बंजारे, विधायक प्रतिनिधि देवा लहरे, मछुआ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष बृंदालाल धीवर, विधायक प्रतिनिधि विजय लारेंस समेत जनप्रतिनिधि और ग्रामीण, खिलाड़ी बड़ी संख्या में मौजूद थे.

ये भी पढ़ें-  लक्षण दिखने के 24 घंटों के अंदर कोरोना जांच कराने पर रिकवरी की संभावना अधिक : डाॅ. पांडा

Share on-

Advertisment

error: Content is protected !!