Press "Enter" to skip to content

Virodh : जांजगीर. एथेनॉल प्लांट का विरोध, ग्रामीणों को बिना सूचना दिए रायपुर से उद्योग विभाग के अफसर और राजस्व अमला पहुंचे सीमांकन करने, ग्रामीणों की आपत्ति के बाद पंचनामा कर लौटे अफसर… विस्तार से पढ़िए…

जांजगीर-चाम्पा. अकलतरा तहसील क्षेत्र के मुड़पार गांव में प्रस्तावित एथेनॉल प्लांट का ग्रामीणों ने विरोध किया. बिना पूर्व सूचना के रायपुर उद्योग विभाग से अधिकारी और राजस्व विभाग के अधिकारी पहुंचे थे, जिन्हें ग्रामीणों के विरोध के बाद अफसरों को जमीन के सीमांकन किए बिना ही लौटना पड़ा.यहां ग्रामीणों के विरोध का पंचनामा किया गया. यहां ग्रामीणों के द्वारा एथेनॉल प्लांट का लगातार विरोध किया जा रहा है और हर स्तर पर ज्ञापन भी दिया जा चुका है, लेकिन विरोध के बाद भी प्रक्रिया नहीं रुक नहीं रही है. अफसरों के मुड़पार गांव पहुंचने की कोई जानकारी ग्रामीणों को नहीं दी गई थी, जिसके कारण लोगों में काफी आक्रोश दिखा.ग्रामीणों का कहना है कि गांव में शासकीय जमीन कम है, उसे भी हथियाने के लिए पूरा हथकंडा अपनाया जा रहा है. साथ ही, निजी जमीन भी लेने की तैयारी है, जबकि ग्रामीणों के पास जीवनयापन के लिए निजी जमीन कम है. वह भी प्लांट में चला गया तो ग्रामीणों को अपने भविष्य की चिंता सता रही है, जिसके बाद एथेनॉल प्लांट का विरोध किया जा रहा है.

ग्रामीणों का साफ कहना है कि जान चली जाएगी, लेकिन वे गांव के विनाश के लिए एथेनॉल प्लांट को लगने नहीं देंगे. गांव के लोग लगातार विरोध कर रहे हैं, फिर भी अफसरों द्वारा कोई सुनवाई नहीं की जा रही है.

READ ALSO-  छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 24 मई को मां दंतेश्वरी को अर्पित करेंगे 11 हजार मीटर की चुनरी....जानिए इसकी खासियत
error: Content is protected !!